नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। भविष्य में हर किसी को एक समय पर आकर पैसों की जरूरत पड़ती ही है, लेकिन अधिकतर करियर की शुरुआत में इसके बारे में कम ही सोचते हैं। जैसे-जैसे उम्र बढ़ती है उसके साथ-साथ लोग को एहसास होता है कि रिटायरमेंट के बाद एक बड़े फंड की जरूरत होगी, बच्चों की शिक्षा के लिए पैसों की जरूरत होती है और उनकी शादी के लिए पैसों की जरूरत होगी। इन सभी के लिए अधिक पैसों की जरूरत होती है, इसलिए निवेश में कमाई का एक बड़ा हिस्सा जाना चाहिए। बड़े फायदों के लिए पैसों को लॉन्ग टर्म तक निवेश करना जरूरी है। पैसों को अच्छी ग्रोथ देने के लिए इक्विटी में निवेश करना जरूरी है। इक्विटी में निवेश के लिए इसके बारे में ठीक प्रकार से जानना जरूरी है।

इन टिप्स को करें फॉलो:

  • बड़े वित्त लक्ष्यों के लिए सबसे पहले जरूरी है वर्तमान में अपनी स्थिति को देखते हुए निवेश को अलग फ्रेम में विभाजित किया जाए। इससे वित्त स्थिति में सुधार होगा और बड़े लक्ष्य को ट्रैक करने में मदद मिलेगी। जब छोटे लक्ष्य पूरे होते रहेंगे तो बड़े वित्त लक्ष्य भी पूरे हो जाएंगे।
  • टाइम मैनेजमेंट को समझना बहुत जरूरी है। छोटे लक्ष्य को समझना बहुत जरूरी है। जैसे मान लीजिए आपको 10 लाख रुपये जोड़ने हैं तो आपको प्रत्येक वर्ष के हिसाब से सेविंग करनी होगी और यह देखना होगा कि किस वर्ष में ज्यादा पैसा बचाया जा सकता है और कितने वर्षों में इतना पैसा जुड़ सकता है। जिस इन्वेस्टमेंट टूल में आप निवेश कर रहे हैं यह बहुत ज्यादा मायने रखता है। इक्विटी आपको लॉन्ग टर्म के लिए पैसा निवेश करने में मदद करता है। इस दौरान आप निवेश के लिए समय और जिस लक्ष्य के लिए निवेश कर रहे हैं उसके बारे में जानेंगे।
  • एक बार समय सीमा तय होने के बाद दूसरा कदम निवेश के लिए सही उपकरण का चयन होता है। अगर आपके मन में कोई लक्ष्य है तो निवेश का साधन तय करें। किसी लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए अधिक समय और धन की आवश्यकता होती है। बड़े वित्त लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए इक्विटी म्युचुअल फंड में निवेश करना बेहतर है। अगर आपके पास कम समय है तो आप लिक्विड फंड का ऑप्शन भी चुन सकते हैं। एक सही निवेश टूल से आप तय समय में पैसे को ग्रोथ दे पाएंगे।
  • लॉन्ग टर्म के निवेश के दौरान बीच में कुछ ऐसी घटनाएं भी घट सकती हैं, जिनके बारे में आपने प्लानिंग नहीं की होगी। इस समय के लिए आपको उचित धन रखना जरूरी है। मान लीजिए आपको लगता है कि कोई स्कीम 10 सालों में पूरी हो सकती है तो आप उसके लिए 13 साल मान कर चलिए, इसके लिए आप इक्विटी में निवेश कीजिए। इसी प्रकार अगर आपको 20 लाख रुपये की जरूरत है तो आप अपनी स्कीम में 25 लाख रुपये का लक्ष्य रख सकते हैं, जिसमें 5 लाख रुपये अप्रत्याशित घटनाओं के लिए काम आएंगे।

यह भी पढ़ें: इस वित्त वर्ष में नहीं होगी पैसों की परेशानी, बस कर लें इन पांच 5 बातों पर गौर

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Praveen Dwivedi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप