नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। पोस्ट ऑफिस अपने ग्राहकों को कई तरह की डिपॉजिट स्कीम्स की पेशकश करता है। इन्हें स्मॉल सेविंग्स स्कीम्स के नाम से भी जाना जाता है। बेहतर और गारंटीड रिटर्न के कारण ये स्कीम्स काफी लोकप्रिय हैं। ये योजनाएं केंद्र सरकार द्वारा समर्थित होती हैं। इनमें से कुछ योजनाओं में भारतीय आयकर अधिनियम की धारा 80 सी के तहत आयकर में छूट भी मिलती है। इन योजनाओं पर ब्याज दर हर तीन महीने में सरकार द्वारा तय की जाती है। आज हम आपको पोस्ट ऑफिस की विभिन्न स्मॉल सेविंग्स स्कीम्स में अप्रैल तिमाही के लिए लागू ब्याज दर के बारे में बताएंगे।

1. सीनियर सिटीजन सेविग्स स्कीम (SCSS)

नियमित रूप से ब्याज आय पाने के लिए इस योजना में 60 साल या अधिक के सीनियर सिटीजन निवेश कर सकते हैं। इस योजना में न्यूनतम निवेश राशि 1,000 रुपये और अधिकतम निवेश राशि 15 लाख रुपये रखी गई है। इस समय इस योजना में ग्राहकों को 7.40 फीसद की दर से ब्याज दिया जा रहा है।

2. सुकन्या समृद्धि योजना (SSY)

यह योजना 'बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ' कैंपेन के अंतर्गत आती है। इस योजना में निवेश की राशि, अर्जित ब्याज राशि और मैच्योरिटी राशि तीनों में ही आयकर से छूट मिलती है। माता-पिता या कानूनी अभिभावक अपनी अधिकतम दो बच्चियों के लिए इस योजना में खाता खुलवा सकते हैं। इस योजना में न्यूनतम निवेश राशि 1,000 रुपये और अधिकतम निवेश राशि 1.50 लाख रुपये रखी गई है। इस समय इस योजना में 7.60 फीसद की दर से ब्याज मिल रहा है।

3. पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम (POMIS)

इय योजना में पांच साल की मैच्योरिटी अवधि होती है। यह योजना केवल निवेशकों से मासिक ब्याज भुगतान की पेशकश करती है। इस योजना में न्यूनतम निवेश सीमा 1500 रुपये और अधिकतम निवेश सीमा सिंगल अकाउंट के लिए 4.50 लाख और ज्वाइंट अकाउंट के लिए 9 लाख रुपये है। इस समय यह योजना 6.60 फीसद की दर से ब्याज दे रही है।

4. किसान विकास पत्र (KVP)

अगर आप अपनी निवेश राशि को दोगुनी करना चाहते हैं, तो आप इस योजना में निवेश कर सकते हैं। इस योजना में ब्याज की दर और निवेश के दोगुने होने की अवधि सरकार द्वारा तिमाही आधार पर तय की जाती है। इस योजना में न्यूनतम निवेश राशि की सीमा 1,000 रुपये और अधिकतम निवेश राशि की कोई सीमा नहीं है। यह योजना इस समय ग्राहकों को 6.90 फीसद की दर से ब्याज दे रही है।

5. पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF)

इस योजना में भी निवेश की राशि, अर्जित ब्याज राशि और मैच्योरिटी राशि तीनों में ही आयकर से छूट मिलती है। इस योजना में 15 साल का लॉक-इन पीरियड होता है, लेकिन सात साल बाद से आंशिक निकासी की सुविधा दी गई है। इस योजना में न्यूनतम निवेश राशि 500 रुपये और अधिकतम निवेश राशि 1.50 लाख रुपये सालाना रखी गई है। इस समय इस योजना में 7.10 फीसद की दर से ब्याज मिल रहा है।

6. पोस्ट ऑफिस आरडी (RD)

नियमित अंतराल पर छोटी तय राशि के निवेश के लिए यह योजना बनाई गई है। ग्राहक पोस्ट ऑफिस में जाकर पांच साल का आरडी अकाउंट खुलवा सकते हैं। इस योजना में न्यूनतम निवेश राशि 10 रुपये और अधिकतम निवेश राशि की कोई सीमा नहीं है। इस समय इस योजना में ग्राहकों को 5.80 फीसद की दर से ब्याज मिल रहा है।

7. पोस्ट ऑफिस बचत खाता

ग्राहक केवल 20 रुपये से पोस्ट ऑफिस में बचत खाता खुलवा सकते हैं। इस अकाउंट में निवेश की न्यूनतम राशि 20 रुपये और अधिकतम राशि की कोई सीमा नहीं है। इस समय इस अकाउंट पर 4 फीसद की दर से ब्याज दिया जा रहा है।

8. फाइव ईयर नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट

इसमें पांच साल का लॉक-इन पीरियड होता है।  इस योजना में भी धारा 80 सी के तहत आयकर में छूट मिलती है। इस योजना में न्यूनतम निवेश राशि 100 रुपये और अधिकतम निवेश राशि की कोई सीमा नहीं है। इस समय इस योजना में 6.80 फीसद की दर से ब्याज मिल रहा है।

9. पोस्ट ऑफिस टाइम डिपॉजिट (POTD)

पॉस्ट ऑफिस भी बैंक FD की तरह ही ग्राहकों से टाइम डिपॉजिट की पेशकश करता है। यह एक, दो, तीन या पांच साल के लिए होता है। इस योजना में न्यूनतम निवेश राशि 200 रुपये और अधिकतम निवेश राशि की कोई सीमा नहीं है। इस योजना पर इस समय 5.50 से 6.70 फीसद की दर से ब्याज मिल रहा है।

(सभी योजनाओं में ब्याज दरें 31 मार्च 2020 के भारत सरकार के सर्कुलर के अनुसार हैं।)

Edited By: Pawan Jayaswal