नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। रिटायरमेंट के बाद आपकी जिंदगी कैसी रहेगी ये इस बात पर निर्भर करता है कि आपने रिटायरमेंट के लिए कितना पैसा जोड़कर रखा है। महंगाई को देखते हुए प्रत्येक व्यक्ति को रिटायरमेंट के बाद आरामदायक जीवन जीने के लिए एक बड़े अमाउंट की जरूरत होती है। आप रिटायरमेंट के बाद बड़ा अमाउंट तभी प्राप्त कर सकते हैं जब आपने जल्द निवेश की शुरुआत की और इक्विटी में एक बड़ी राशि का निवेश किया हो।

जल्दी निवेश करना: अगर आप जिंदगी में जल्द निवेश करना शुरू करते हैं तो छोटे-छोटे निवेश से भी भविष्य के लिए एक बड़ा अमाउंट जमा कर सकते हैं। उदाहरण के लिए एक 25 साल का व्यक्ति हर महीने 1,821 रुपये जमा करके 55 साल की उम्र तक 1 करोड़ रुपये जमा कर सकता है (यह मानते हुए कि निवेश 14 फीसद के सीएजीआर से बढ़ता है)। यह मान सकते हैं कि प्रतिदिन में सिर्फ 60 रुपये से अधिक निवेश करके 30 सालों में 1 करोड़ रुपये जमा हो सकते हैं।

इक्विटी में अधिक निवेश करें: रिटायरमेंट की अवधि 15-20 साल से बढ़कर 25-30 साल हो गई है तो ऐसे में अच्छा जीवन व्यतीत करने के लिए आपको एक बड़े अमाउंट की जरूरत होगी। अगर आप इक्विटी में अधिक निवेश करते हैं तो अधिक लाभ प्राप्त किया जा सकता है। 25-30 साल के व्यक्ति को अपनी रिटायरमेंट सेविंग का कम से कम 80 फीसद हिस्सा इक्विटी में निवेश करना चाहिए, क्योंकि इससे आसानी से 12-14 फीसद का चक्रवृद्धि रिटर्न मिलेगा।

इमरजेंसी के लिए फंड: आपके पास अपने मासिक खर्च के हिसाब से कम से कम अगले 6 माह के लिए खर्च के लिए धन होना चाहिए, क्योंकि अगर आप बीमार हो जाते हैं या अचानक नौकरी छूट जाती है तो ऐसे में आपके पास इमरजेंसी के लिए धन होगा तो आप रिटायरमेंट के लिए बचाए गए पैसे को खर्च नहीं करेंगे

इन सभी के साथ आपको कम से कम 10 साल की सालाना आय का बीमा और कम से कम 5 लाख रुपये का स्वास्थ्य बीमा करवा लेना चाहिए, जिससे रिटायरमेंट के बाद की जिंदगी आरामदायक रहेगी।

Posted By: Sajan Chauhan

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप