नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। अगर कोई गार्जियन अपने बच्चे के लिए बचत खाता खुलवाना चाहता है तो भारतीय स्टेट बैंक (SBI) में नाबालिगों के लिए ‘Pehla Kadam’ और ‘Pehli Udaan’ नाम से बचत खाता खोलने की सुविधा है। एसबीआई के मुताबिक, ये दो बचत बैंक खाते नाबालिगों के लिए हैं। इस खाते का इस्तेमाल मोबाइल बैंकिंग और इंटरनेट बैंकिंग से भी किया जा सकता है। इस खाते से बच्चों में पैसे बचाने के प्रति आदत सुधरेगी।

Pehla Kadam, Pehli Udaan खाते के बारे में

  • खाते में आपको फोटो एटीएम-कम-डेबिट कार्ड की सुविधा मिलेगी। 'पहला कदम' खाते के लिए निकासी सीमा 5,000 रुपये है।
  • खाते में मासिक अवरेज बैलेंस रखने का झंझट नहीं है।
  • नाबालिग और अभिभावक के नाम से कार्ड जारी किए जाएंगे। पहली उड़ान के लिए भी निकासी सीमा 5,000 रुपये है।
  • अधिकतम 10 लाख रुपये बैलेंस रख सकते हैं।
  • चेक बुक की सुविधा दोनों तरह के खातों के साथ उपलब्ध है। विशेष तौर पर डिजाइन किया गया 10 चेक बुक जारी की जाती हैं।
  • पहले के खाते में यह नाबालिग के नाम पर गार्जियन को जारी किया जाएगा।
  • माता-पिता/अभिभावकों के लिए ओवर ड्राफ्ट की सुविधा मिलती है।
  • मोबाइल बैंकिंग सुविधा के साथ टॉप अप जैसे सीमित लेनदेन अधिकार मिलते हैं। प्रति दिन लेनदेन की सीमा 2,000 रुपये है।

कैसे खुलेगा खाता

  • पहले आपको SBI की ऑफिशियल वेबसाइट sbi.co.in पर जाना होगा। इसके बाद पर्सनल बैंकिंग पर क्लिक करें।
  • अब अकाउंट्स टैब पर क्लिक कर सेविंग अकाउंट ऑफ माइनर्स का विकल्प चुनना होगा।
  • अब अप्लाई नाउ पर क्लिक करें। फिर आपको डिजिटल और इंस्टा सेविंग अकाउंट का एक पॉप-अप फीचर्स दिखाई देगा।
  • आपको Open a Digital Account के टैब में क्लिक करना है।
  • इसके बाद Apply now क्लिक कर अगले पेज पर जाएं।
  • अकाउंट ओपन करने के लिए अपनी पूरी जानकारी दें।
  • इस प्रक्रिया को पूरा करने के लिए एक बार SBI के ब्रांच में जाना जरूरी है।
  • इसके अलावा आप ऑफलाइन तरीके से SBI के ब्रांच में भी जाकर अकाउंट ओपन कर सकते हैं।

Edited By: Nitesh