नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। वॉरेन बफे ने बर्कशायर हैथवे इंक स्टॉक की 3.4 बिलियन डॉलर की रकम पांच चैरिटी संस्थाओं को दी है। चैरिटी के लिहाज से यह उनका अब तक का सबसे बड़ा योगदान माना जा रहा है।

बफे का 13वां सालाना डोनेशन बर्कशायर के 17.7 मिलियन क्लास बी शेयर्स के बराबर है। सोमवार की बाजार बंदी के मुताबिक जिसकी रकम करीब 192 डॉलर (प्रत्येक) है। बफे के चैरिटी का एक बड़ा हिस्सा बिल एंड मिलिंडा गेट्स फाउंडेशन को गया है। बफे के पास खुद का एक फाउंडेशन है जिसका नाम उन्होंने अपनी दिवंगत पत्नी सुसैन के नाम पर रखा है। इस फाउंडेशन को अब उनके बच्चे हॉवर्ड, सुसैन और पीटर चलाते हैं।

87 वर्षीय बफे साल 2006 से अब तक करीब 30.9 बिलियन डॉलर की डोनेशन चैरिटी को दे चुके हैं, इसमें से अकेले 24.5 बिलियन डॉलर की चैरिटी गेट्स फाउंडेशन को मिली है। उनकी पिछली बड़ी डोनेशन राशि 3.17 बिलियन डॉलर की थी जो कि उन्होंने साल 2017 में दी थी।

बफे के पास आज भी बर्कशायर की एक बटा छठे हिस्से की हिस्सेदारी है। ओमाहा, नेब्रास्का स्थित उनका समूह साल 1965 से संचालित हो रहा है। जबकि साल 2006 में वो अपने 43 फीसद शेयर्स डोनेट कर चुके हैं। नवीनतम दान के बावजूद फोर्ब्स पत्रिका के मुताबिक बफेट के 79.2 बिलियन डॉलर के साथ दुनिया के चौथे अमीर व्यक्ति बनने की उम्मीद है। गौरतलब है कि हाल ही में जेफ बेजॉस दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति बने हैं। बेजॉस के बाद बिल गेट्स दुनिया के दूसरे अमीर शख्स हैं।      

Posted By: Praveen Dwivedi