नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही के लिए कंपनियां अपने नतीजे जारी कर रही हैं। शुक्रवार को इनमें से गेल, यूनियन बैंक और हिंडाल्को ने भी नतीजे जारी किये हैं। जानिए किस कंपनी ने कमाया कितना मुनाफा-

गेल का 23 फीसद से ज्यादा बढ़ा मुनाफा

वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही में गेल का मुनाफा 23.3 फीसद बढ़कर 1,259 करोड़ रुपये रहा है। बीते वित्त वर्ष की चौथी तिमाही में यह 1,021 करोड़ रुपये रहा था। इस दौरान कंपनी की आय 12.1 फीसद बढ़कर 17,299 करोड़ रुपये के स्तर पर रही है। जबकि वित्त वर्ष 2018 की मार्च तिमाही में गेल की आय 15,431 करोड़ रुपये रही थी। तिमाही आधार पर बात करें तो पहली तिमाही में गेल का एबिटडा बढ़कर 2,244 करोड़ रुपये रहा है। जबकि एबिटडा मार्जिन 11 फीसद से बढ़कर 13 फीसद रहा है।

यूनियन बैंक का 11.2 फीसद बढ़ा मुनाफा

चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में यूनियन बैंक का मुनाफा 11.2 फीसदी बढ़कर 129.5 करोड़ रुपये रहा है। जबिक बीते वर्ष की समान अवधि में कंपनी का मुनाफा 116.5 करोड़ रुपये रहा था। इस दौरान कंपनी की ब्याज आय 2,626.2 करोड़ रुपये पर पहुंच गई है जो वित्त वर्ष 2018 की अप्रैल तिमाही में 2,242.6 करोड़ रुपये रही थी।

 

तिमाही दर तिमाही आधार पर अप्रैल-जून तिमाही में यूनियन बैंक का ग्रॉस एनपीए बढ़कर 16 फीसदी रहा है। जबकि कंपनी का नेट एनपीए 8.7 फीसद के स्तर पर रहा है। रुपये के आधार पर देखें तो तिमाही दर तिमाही आधार पर जून तिमाही में कंपनी का ग्रॉस एनपीए 50,972.6 करोड़ रुपये रहा है। वहीं नेट एनपीए 25,508.4 करोड़ रुपये रहा है।

हिंडाल्को का 42.8 फीसद बढ़ा मुनाफा

 

वित्त वर्ष 2019 की अप्रैल से जून तिमाही में हिंडाल्को का स्टैंडअलोन मुनाफा 413.5 करोड़ रुपये हो गया है जो वित्त वर्ष 2018 की समान अवधि में 289.5 करोड़ रुपये रहा था। वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही में हिंडाल्को की स्टैंडअलोन आय 8.4 फीसद की बढ़ोतरी के साथ 10,593 करोड़ रुपये रही है जो कि वित्त वर्ष 2018 की जून तिमाही में 9,775 करोड़ रुपये रही थी। साल दर साल आधार पर बात करें तो पहली तिमाही में कंपनी का स्टैंडअलोन एबिटडा 1153 करोड़ रुपये से बढ़कर 1325 करोड़ रुपये रहा है। जबकि स्टैंडअलोन एबिटडा मार्जिन 11.8 फीसद से बढ़कर 12.5 फीसद रहा है। सालाना आधार पर अप्रैल तिमाही में कंपनी के एल्युमिनियम कारोबार की आय 11.5 फीसद बढ़कर 5,592 करोड़ रुपये रही है। 

Posted By: Surbhi Jain