नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। इंग्लिश फुटबाल क्लब मैनचेस्टर युनाइटेड को खरीदने की बात कहकर अरबपति एलन मस्क अपने बयान से पलट गए हैं। मैनचेस्टर युनाइटेड (Manchester United) को खरीदने का ट्वीट करने के कुछ ही घंटों बाद उन्होंने एक और ट्वीट करके कहा कि वह मजाक कर रहे थे।

मस्क ने कहा,  'नहीं, यह ट्विटर पर लंबे समय से चल रहा मजाक है। मैं कोई स्पोर्ट्स टीम नहीं खरीद रहा हूं।'

मस्क ट्विटर पर ऐसे बयान पहले भी देते रहे हैं। इसके लिए वह कई बार ट्रोल भी हो चुके हैं। हालत यह है कि टेस्ला के सीईओ एलन मस्क (Elon Musk) अब संजीदगी से भी कुछ कहते हैं तो कोई उनको सीरियसली नहीं लेता। इस साल की शुरुआत में मस्क ने सोशल मीडिया फर्म ट्विटर को खरीदने की पेशकश की थी, लेकिन बाद में वह इस सौदे से पीछे हट गए। ट्विटर पर 'स्पैम बॉट्स' और फर्जी अकाउंट की भरमार होने की बात कहकर उन्होंने इस डील को आगे बढ़ाने से मना कर दिया था। इस बात को लेकर ट्विटर और एलन मस्क के बीच कानूनी लड़ाई चल रही है।मस्क का कहना है कि ट्विटर पर बड़ी संख्या में नकली खातों की भरमार है। जबकि ट्विटर का कहना है कि मस्क जान-बूझकर ये सौदा तोड़ने की कोशिश कर रहे हैं। 

मैनचेस्टर युनाइटेड फुटबॉल क्लब ओल्ड ट्रेफोर्ड में स्थित एक इंग्लिश फुटबॉल क्लब है, जिसकी गिनती दुनिया के सबसे लोकप्रिय फुटबॉल क्लब में होती है। फिलहाल इस क्लब की हालत अच्छी नहीं है। 2005 में ग्लेजर फैमिली ने क्लब को 790 मिलियन पाउंड (955.51 मिलियन डॉलर) में खरीदा था। मंगलवार तक मैनचेस्टर युनाइटेड का मार्केट कैप 2.08 बिलियन डॉलर था।

Edited By: Siddharth Priyadarshi