फेडरल रिजर्व की तरफ से जून में ब्याज दरों में वृद्धि की संभावनाओं से ग्लोबल बाजार कमजोर हो गया है। इसके चलते घरेलू शेयर सूचकांक- सेंसेक्स और निफ्टी भी बीते सप्ताह कमजोरी के साथ बंद हुए। हालांकि अमेरिका में अप्रैल के वेतन संबंधी आंकड़े बता रहे हैं कि अर्थव्यवस्था सुधार आना बाकी है। फेड रिजर्व की चेयरपर्सन जेनेट

येलेन जून के पहले सप्ताह में क्या बयान देंगी इसे लेकर भी कयासबाजी चल रही है। उनके बयान के बाद ही बाजार के खिलाड़ी आगे की रणनीति तय करेंगे।

तमिलनाडु में जयललिता की अप्रत्याशित जीत को छोड़ दें तो विधानसभा चुनावों के नतीजे उम्मीद के मुताबिक रहे। इन नतीजों का राज्यसभा के गणित पर कोई असर नहीं होगा, क्योंकि तमिलनाडु को छोड़कर इनमें से किसी अन्य राज्य में इस वर्ष राज्यसभा में कोई स्थान रिक्त नहीं हो रहा है। अलबत्ता जून में राज्यसभा की 57 सीटों पर चुनाव होना है। यह चुनाव महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, तमिलनाडु, बिहार, हरियाणा, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में होगा। ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि भाजपा इनमें से चार सीट जीतने में सफल होगी और उसके सहयोगी दल टीडीपी को तीन सीटें मिल सकती हैं। लेकिन राज्यसभा में कांग्रेस 60 सांसदों के साथ तब भी सबसे बड़ी पार्टी बनी रहेगी। लेकिन इन चुनावों के बाद सदन में संप्रग के सदस्यों की संख्या 70 रहेगी। राजग सांसदों की संख्या 76 हो जाएगी। इसलिए सरकार को राज्यसभा में महत्वपूर्ण विधेयक पारित कराने के लिए अभी भी गैर राजग-गैर संप्रग दलों पर ही निर्भर रहना होगा। इनमें अन्नाद्रमुक, तृणमूल कांग्रेस, बहुजन समाज पार्टी और बीजू जनता दल प्रमुख हैं। बाजार में यह सप्ताह वायदा कारोबार की एक्सपायरी का रहेगा। लिहाजा बाजार में उठापटक तेज रहेगी। मानसून कुछ सप्ताह दूर है इसलिए बाजार में कंपनियों के नतीजे ही प्रमुख ट्रिगर रहेंगे। इस सप्ताह सोमवार को बीपीसीएल और टाटा पावर के नतीजे आएंगे। सिपला और टेक र्मंहद्रा मंगलवार को नतीजों का एलान करेंगी।

बजाज ऑटो, गेल, टाटा स्टील और एलएंडटी बुधवार को नतीजे घोषित करेंगी। भेल और एसबीआइ के नतीजे शुक्रवार को तो कोल इंडिया के शनिवार को आएंगे। सोमवार को बाजार में जी-7 देशों के वित्त मंत्रियों की बैठक के नतीजों का असर दिखेगा। जापान में 20 और 21 मई को केंद्रीय बैंकों के गवर्नरों की बैठक का प्रभाव

भी सोमवार को बाजार पर दिख सकता है।

संदीप पारवाल

एमडी, एसपीए कैपिटल्स

Posted By: Babita Kashyap