नई दिल्‍ली, पीटीआइ। Covid ने Life insurance कंपनियों के वारे-न्‍यारे कर दिए हैं। साधारण बीमा कंपनियों का सकल प्रीमियम संग्रहण चालू वित्त वर्ष की जून में समाप्त तिमाही में 13.8 प्रतिशत बढ़कर 44,436 करोड़ रुपये हो गया। इसका मुख्य कारण स्वास्थ्य क्षेत्र में कोविड-19 महामारी के कारण 31 प्रतिशत की बढ़ोतरी रही। केयर रेटिंग्स की रिपोर्ट के अनुसार सभी आंकड़े दर्शाते हैं कि अब यह क्षेत्र कोविड-19 से पूर्व के स्तर पर लौट रहा है। हालांकि उद्योग का प्रमुख मोटर खंड लगातार पिछड़ रहा है और स्वास्थ्य आगे बढ़ रहा है।

30 फीसद उछला प्रीमियम (How to calculate premi)

Premium Calculator : रिपोर्ट के अनुसार स्वास्थ्य बीमा क्षेत्र की कंपनियों का प्रीमियम वित्त वर्ष 2021-22 की जून तिमाही के दौरान 30.9 प्रतिशत के उछाल के साथ 17,497.1 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। स्वास्थ्य बीमा क्षेत्र 39.4 प्रतिशत की हिस्सेदारी के साथ प्रीमियम संग्रह में सबसे आगे रहा। वाहन प्रीमियम संग्रह में 3.1 प्रतिशत की वृद्धि हुई।

क्षेत्र की बाजार हिस्सेदारी घटकर 30.7 प्रतिशत (Insurance sector Market Cap)

इस तरह क्षेत्र की बाजार हिस्सेदारी घटकर 30.7 प्रतिशत रह गई, जो एक साल पहले समान अवधि में 38.3 प्रतिशत थी। इसके अलावा कुल स्वास्थ्य बीमा बिक्री में एकल निजी कंपनियों की हिस्सेदारी 4,222.8 करोड़ रुपये रही, जो पिछले साल की इसी अवधि की तुलना में 55.5 प्रतिशत अधिक है।

पहली तिमाही में उद्योग की कुल वृद्धि 13.8 फीसद (How to calculate Term insurance premium)

वित्त वर्ष 2021-22 की पहली तिमाही में उद्योग की कुल वृद्धि 13.8 प्रतिशत बढ़कर 44,435.9 करोड़ रुपये रही। जो एक साल पहले इसी अवधि में 4.9 प्रतिशत घटकर 39,054.8 करोड़ रुपये थी।