स्वास्थ्य बीमा क्षेत्र में पूरे देश में इतनी संभावनाएं होने के बावजूद आप खुद को दक्षिण भारत तक क्यों सीमित रखे हुए हैं?
-देखिए, यह जरूर है कि हम दक्षिण भारत में केंद्रित रहे। लेकिन अब ऐसा नहीं है। हमारा ध्यान अब उत्तर भारत पर है। खासतौर पर हमारा फोकस टियर टू और थ्री शहरों पर है। इस क्षेत्र में पैठ बढ़ाने के लिए हमारा उत्तर प्रदेश पर खास ध्यान है। पश्चिमी उत्तर प्रदेश में अपनी पॉलिसियां बेचने के लिए हमने सहारनपुर स्थित शिवालिक कोऑपरेटिव बैंक के साथ बैंकश्योरेंस का करार भी किया है।

क्या बैंकश्योरेंस के जरिये हेल्थ इंश्योरेंस जैसे स्पेशलाइज उत्पाद बेचना सही होगा?
-इसके लिए खास तैयारी की है। पहली बात, शिवालिक कोऑपरेटिव बैंक की जो शाखाएं ये उत्पाद बेचेंगी और बैंक के जो कर्मचारी यह काम करेंगे, उन्हें हम प्रशिक्षित करेंगे। दूसरी बात, हमारे अधिकारी भी शाखाओं में उपलब्ध रहेंगे, ताकि अगर ग्राहकों को जरूरत हो तो उनसे बात की जा सके। हम इस पर पूरा ध्यान दे रहे हैं कि स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी को लेकर ग्राहक की कोई भी शंका बिना समाधान के न रह सके।

आपके बीमा उत्पाद दूसरे से अलग कैसे हैं?
-देखिए, मूल उत्पाद तो सबके एक जैसे होते हैं। लेकिन हमारी कंपनी ने इन उत्पादों में कुछ ऐसी विशेषताएं जोड़ी हैं, जिनकी वजह से हम अन्य कंपनियों के उत्पादों के मुकाबले ज्यादा बेहतर दिखते हैं। जैसे वरिष्ठ नागरिकों के लिए बीमा योजनाएं लाने से ज्यादातर कंपनियां हिचकती हैं। हमने वरिष्ठ नागरिकों के लिए भी बीमा उत्पाद बाजार में उतारे हैं। इसके अलावा हमारी ओपीडी पॉलिसी भी हमें दूसरों से अलग करती है। छोटी मोटी बीमारी होने पर हर व्यक्ति को डॉक्टर को दिखाना पड़ता है। हमारी ओपीडी पॉलिसी के तहत अब आप डॉक्टर की सलाह भी ले सकते हैं। इसके अलावा अमीर ग्राहकों की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए एक कॉम्प्रीहेंसिव पॉलिसी कंपनी ने उतारी है। साथ ही एयर एंबुलेंस जैसी सुविधाएं भी हमने अपनी पॉलिसी में कवर की हैं।

कंपनी का अब तक का प्रदर्शन कैसा रहा है?
-जहां तक प्रदर्शन का सवाल है, साल 2014-15 में हमने कारोबार में 34 फीसद की वृद्धि दर हासिल की है। कंपनी को इस अवधि में 1,472 करोड़ रुपये का प्रीमियम मिला। अब तक कंपनी 55 लाख ग्राहकों को 18 लाख पॉलिसियों की बिक्री कर चुकी है। इसके अलावा तीन से पांच लाख दावे भी निपटाए गए हैं।

आजकल गंभीर बीमारियों को लेकर बीमा कंपनियां ज्यादा सतर्क हैं। आपके पास किस तरह के उत्पाद हैं?
-बिल्कुल। ऐसे उत्पादों की मांग अब तेजी से बढ़ रही है। हम भी कैंसर के लिए एक विशेष उत्पाद विकसित कर रहे हैं। इसके अलावा हमारे पास डायबिटीज के लिए एक विशेष प्लान है, जिसमें हर तरह की डायबिटिक बीमारियां कवर होती हैं। इसके अलावा हृदय रोग से संबंधित पॉलिसी हमारे पास है। इसमें हम सर्जरी भी शामिल करते हैं।

आपके उत्पाद ऑनलाइन भी उपलब्ध हैं?
-जी हां। करीब 19 उत्पाद हम ऑनलाइन प्लेटफॉर्म के जरिये बेचते हैं। हमारे कुल बीमा कारोबार का करीब पांच फीसद हिस्सा ऑनलाइन बिक्री से आता है। यह जरूर है कि कुछ ऐसे उत्पाद हैं, जिन्हें ऑनलाइन नहीं बेचा जा सकता। लेकिन वे सभी उत्पाद हमारे ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध हैं जो समझने में आसान हैं।

आपने शुरू में कहा कि उत्तर भारत अब आपके फोकस में है। उत्तर प्रदेश की क्या स्थिति है?
-उत्तर प्रदेश को हमने उत्तर भारत से अलग रखा है। उत्तर प्रदेश हमारे खास फोकस में है। इसलिए लखनऊ में हमने जोनल कार्यालय बनाया है। यही कार्यालय बिहार व झारखंड के बाजार को भी कवर करता है। पश्चिमी उत्तर प्रदेश में हमारी शाखाएं मेरठ, सहारनपुर और मुजफ्फरनगर में हैं।
आनंद राय
सीनियर वाइस प्रेसिडेंट, सेल्स मार्केटिंग
स्टार हेल्थ इंश्योरेंस

संबंधित अन्य सामग्री पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप