नई दिल्ली, ब्रांड डेस्क। भविष्य में हमारे साथ क्या हो सकता है हमें कुछ नहीं पता, इसलिए यहां इंश्योरेंस प्लान महत्वपूर्ण हो जाता है। इंश्योरेंस प्लान इस बात को सुनिश्चित करता है कि संकट की स्थिति में आप या आपका परिवार वित्तीय रूप से सुरक्षित रहेगा। इंश्योरेंस कई तरह के होते हैं जैसे – लाइफ इंश्योरेंस, कार इंश्योरेंस, होम इंश्योरेंस, ट्रैवल इंश्योरेंस और हेल्थ इंश्योरेंस। अब आपको देखना है कि इनमें से आपकी जरूरत क्या है। वैसे विशेषज्ञों का मानना है कि हेल्थ इंश्योरेंस परिवार में सबको लेना चाहिए क्योंकि इसका सीधा संबंध व्यक्ति के स्वास्थ्य से है।

बदलती जीवनशैली की वजह से बीमारियां बढ़ रही हैं और साथ ही साथ अस्पताल के खर्चे भी। नौकरीपेशा या छोटा-मोटा व्यवसाय करने वाले व्यक्ति के लिए गंभीर बीमारी की स्थिति में अस्पताल का भारी खर्च उठाना संभव नहीं हो पाता इसलिए अगर आपके या आपके परिवार के पास एक सही हेल्थ इंश्योरेंस प्लान होगा तो बीमारी के कारण होने वाले मेडिकल खर्चों से बचा जा सकता है। इसके अलावा, हेल्थ इंश्योरेंस प्लान आपको कई अन्य फायदे भी देता है। इसमें कैशलेस ट्रीटमेंट, हॉस्पिटलाइजेशन कवर, डे केयर ट्रीटमेंट कवर, प्री-पोस्ट हॉस्पिटलाइजेशन खर्च की सुविधा, टैक्स बेनिफिट आदि जैसे फायदे मिलते हैं। यदि आप ऑनलाइन हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदना चाहते हैं, तो इसके लिए रिलायंस जनरल इंश्योरेंस एक सही जगह है। यहां आपको हर तरह के हेल्थ इंश्योरेंस कवर मिल जाएंगे। आप अपनी सुविधा अनुसार हेल्थ इंश्योरेंस कवर ले सकते हैं।

वैसे भारी मेडिकल खर्चों के बोझ से खुद को बचाए रखने के लिए जितना महत्वपूर्ण हेल्थ इंश्योरेंस प्लान है, उतना ही इसका रिन्यूअल भी महत्वपूर्ण है। इसलिए अगर आप सोच रहे हैं कि हेल्थ इंश्योरेंस प्लान लेने के बाद आपका काम खत्म हो गया है, तो आप गलत सोच रहे हैं। आपको समय-समय इसका रिन्यू कराना होगा नहीं तो आप क्लेम और दूसरे फायदों से वंचित रह जाएंगे। 

 

एक हेल्थ इंश्योरेंस प्लान में रिन्यूअल क्यों है महत्वपूर्ण

जब हम कोई हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी लेते हैं, तो सबसे पहले हम क्लेम के बारे में सोचते हैं। मतलब बीमारी के दौरान जब हमे पैसे की जरूरत होगी तो क्या इंश्योरेंस कंपनी कोई अड़चन तो नहीं डालेगी। इसके लिये सबसे पहले तो ये है कि शुरुआत में ही आपको अपनी हेल्थ कंडीशन के बारे में इंश्योरेंस प्रोवाइडर को सही जानकारी देनी चाहिए। दूसरा, रिन्यू पॉलिसी की तारीख भी आपको ध्यान देना होगा। यहां रिन्यू कराने का मतलब यह है कि आपकी पॉलिसी एक्टिव है। यह एक तरह का प्रीमियम होता है जिसे समय पर दे देना चाहिए।

आपकी पॉलिसी समाप्त होने से पहले आपको रिन्यू करना होगा ताकि इसके क्लेम या फायदों में कोई दिक्कत ना आए। अगर आप देय तिथि से पहले या रियायत अवधि में अपनी पॉलिसी को रिन्यू नहीं कराते हैं, तो आपकी पॉलिसी समाप्त हो जाएगी। फिर आपको नये सिरे से अपनी पॉलिसी को रिन्यू कराना होगा। इसमें आप कम प्रीमियम और प्रतीक्षा अवधि के फायदों से वंचित रह जाएंगे। इस दौरान यदि आपके स्वास्थ्य की स्थिति में बदलाव आया है तो उसका भी अतिरिक्त दबाव बढ़ेगा। पॉलिसी को रिन्यू करने से आपको मेडिकल इमरजेंसी की स्थिति में खुद को सुरक्षित करने में मदद मिलती है। इसलिए विशेषज्ञ यह सुझाते हैं कि कभी भी रिन्यू की अनदेखी न करें।

कहां से कराएं अपनी पॉलिसी को रिन्यू

हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी की तरह रिन्यूअल पॉलिसी भी आप ऑनलाइन करा सकते हैं। यदि आप रिलायंस जनरल इंश्योरेंस के पॉलिसीधारक हैं तो आपको हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी के लिए इसके ऑनलाइन सुविधा का लाभ जरूर उठाना चाहिए और पॉलिसी को रिन्यू करना चाहिए। यहां आप कम समय में और आसानी से अपनी पॉलिसी को रिन्यू कर सकते हैं। अगर बेस पॉलिसी के साथ कोई दूसरा प्लान जोड़ना चाहते हैं तो आप वह भी करवा सकते हैं। एक बात और रिन्यू कराते समय आपको अपनी मेडिकल स्थिति में आए बदलाओं के बारे में भी अपडेट करना होगा।  

इसके अलावा, रिलायंस जनरल इंश्योरेंस की वेबसाइट पर आपको बेहतर सुविधाओं के साथ कई हेल्थ इंश्योरेंस प्लान भी मिल जाएंगे, जिसमें Covid-19 का उपचार भी शामिल है। ऐसा ही एक प्लान है रिलायंस हेल्थ इन्फिनिटी पॉलिसी। 30% तक की छूट के साथ आने वाली यह पॉलिसी अतिरिक्त कवर और अतिरिक्त समय की सुविधा देती है। मतलब अगर आप हेल्थ इन्फिनिटी पॉलिसी का 10 लाख वाला कवर लेते हैं, तो इस कवर के साथ आपको 3 लाख का अतिरिक्त कवर मिलेगा, जिससे आपका कुल हेल्थ कवर 13 लाख का हो जाएगा।

इसके साथ-साथ अगर आप 12 महीने के लिए पॉलिसी प्रीमियम को चुनते हैं, तो आपको एक महीने का अतिरिक्त फायदा मिलेगा, जिससे आपका कवर 13 महीने का हो जाएगा। वैसे, यह पॉलिसी उन लोगों के लिए भी बहुत फायदेमंद है, जो विदेशों में यात्रा करते हैं। विश्व में आपको कहीं भी स्वास्थ्य संबंधित समस्या आती है तो इस पॉलिसी के जरिए आपको इमर्जेंसी हॉस्पिटलाइजेशन की सुविधा मिलेगी। सबसे खास बात यह है कि हेल्थ इन्फिनिटी पॉलिसी Covid-19 के उपचार को भी कवर करती है। इसका क्लेम सेटलमेंट रेशियो 100% फीसदी है। मतलब इस पॉलिसी को लेने वाला हर व्यक्ति क्लेम प्राप्त करने में सफल हुआ है।   

हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी लेने से पहले आपको नियमों और शर्तों को ध्यान से पढ़ना चाहिए। इसके अलावा पॉलिसी लेने के बाद आपको यह भी ध्यान देना है कि पॉलिसी रिन्यूअल की समाप्ति तिथि और उसकी रियायत अवधि क्या है, क्योंकि अगर आप यह भूल गए तो आपकी पॉलिसी समाप्त हो सकती है और आप क्लेम से वंचित हो सकते हैं तथा नए सिरे से आपको शुरुआत करनी पड़ेगी। इसलिए अगर आप भविष्य में अपनी वित्तीय स्थिति को सुरक्षित रखना चाहते हैं तो अपनी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी को रिन्यू कराना कभी न भूलें। 

(लेखकः शक्ति सिंह) 

(यह आर्टिकल ब्रांड डेस्‍क द्वारा लिखा गया है।) 

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप