नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। हेल्थ इंश्योरेंस या मेडिकल इंश्योरेंस कवर वो चीज है जो प्रत्येक व्यक्ति के जीवन में बहुत जरूरी है। भारत में ट्रीटमेंट बहुत महंगा होता जा रहा है और ऐसे में किसी तरह की दिक्कत से बचने में ये इंश्योरेंस काम आता है। 30 की उम्र से पहले मेडिकल इंश्योरेंस खरीदना हमेशा अच्छा होता है, क्योंकि इससे मेडिकल इमरजेंसी से निपटने में मदद मिलती है।

अक्सर वित्तीय सलाहकार लोगों को कम उम्र में हेल्थ इंश्योरेंस खरीदने के लिए कहते हैं। यहां उन 5 कारणों के बारे में बता रहे हैं, जिनसे ये पता चलेगा कि 30 साल की उम्र से पहले हेल्थ इंश्योरेंस क्यों करवाना चाहिए।

जल्दी खरीदने पर ज्यादा फायदा: यहां ध्यान दिया जा सकता है कि आप जितना जल्दी हेल्थ इंश्योरेंस खरीदेंगे आपका मासिक प्रीमियम उतना ही कम होगा। मान लीजिए यदि आप 25 साल की उम्र में 5 लाख रुपये का मेडिकल बीमा खरीदते हैं तो आपको 5,000 रुपये का मासिक भुगतान करना होगा। वहीं आप 35 साल की उम्र में उसी इंश्योरेंस के लिए 6 हजार रुपये प्रति माह देंगे और 45 साल की उम्र में प्रति माह 8 हजार रुपये देंगे। यही एक वजह है कि वित्तीय सलाहकार जल्द चिकित्सा बीमा कवर लेने के लिए कहते हैं।

बेहतर वित्तीय योजना: हेल्थ इंश्योरेंस करवाना फायदेमंद है, क्योंकि किसी भी मेडिकल इमरजेंसी की स्थिति में इससे काफी राहत होती है। कभी इलाज के लिए लाखों रुपये जरूरत पड़ सकती है और ऐसे में हेल्थ इंश्योरेंस होगा तो आपकी जेब पर कोई खास असर नहीं आएगा।

जल्द खरीदने के भत्ते: लोगों को ध्यान देना चाहिए कि जीवन में स्वास्थ्य बीमा खरीदने के कई फायदे हैं। इसके बाद आपको विशिष्ट सर्जरी, विशेष उपचार और बीमारी के लिए प्रयाप्त धन मिल जाएगा। वहीं कम उम्र में हेल्थ इंश्योरेंस खरीदने से आपको बोनस भी मिलता है।

नियोक्ता के बीमा पर निर्भर न रहें: कुछ व्यक्ति नियोक्ताओं के बीमा पर ही निर्भर रहते हैं, अधिकतर कंपनियां अपने कर्मचारियों को 2-5 लाख रुपये का हेल्थ इंश्योरेंस कवर देती हैं जो कि वर्तमान में बढ़ रही चिकित्सा लागत को देखते हुए भविष्य में कम साबित हो सकता है। इसलिए आप खुद भी अपने लिए हेल्थ इंश्योरेंस करवाएं।

समग्र स्वास्थ्य कवरेज: कम उम्र में चिकित्सा बीमा खरीदना अच्छी बात है क्योंकि यह भविष्य में उत्पन्न होने वाली किसी भी मेडिकल इमरजेंसी में मदद प्रदान करता है। हेल्थ इंश्योरेंस सिर्फ अस्पताल में भर्ती होने की लागत को ही कवर नहीं करता बल्कि रोजाना के खर्चों और ओपीडी को भी कवर करता है। हेल्थ इंश्योरेंस में सभी प्रकार की बीमारियों को कवर किया जाता है और अधिकतर में मातृत्व लाभ भी मिलते हैं।

यह भी पढ़ें: ऐसी इंश्योरेंस पॉलिसी, जिनके बारे में आप नहीं जानते होंगे

Posted By: Praveen Dwivedi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप