नई दिल्ली (साईं श्रीनिवास धूलिपाला)। उद्योग जगत में किसी भी उत्पाद से संबंधित विकास का केंद्र बिंदु ग्राहकों को अधिक मूल्य प्रदान करना है। यह परिवर्तन की निरंतर प्रक्रिया है जो बदलते माहौल और ग्राहक आवश्यकताओं के बीच अधिकतम लाभ लेने में मदद करता है।

किसी उत्पाद के हालिया इतिहास में मोबाइल फोन शायद सबसे अच्छा उदाहरण है जो दिखाता है कि निरंतर विकास क्या कर सकता है। हम देख सकते हैं कि दुनिया भर में अरबों लोगों के लिए एक भारी-भरकम वॉइस कॉल टूल से लेकर मौजूदा दौर में स्टाइलिश दिखने वाले हथेली में थामे वर्क-स्टेशन तक- इसने कितना विकास किया है। आज मोबाइल फोन सिर्फ वॉयस कॉल के काम आने वाला एक गैजेट नहीं रह गया, बल्कि इसमें लगभग सब कुछ समाहित कर दिया गया है। और मोबाइल ऐसा एकमात्र उदाहरण नहीं है। लैपटॉप भी पोर्टेबल कंप्यूटर से विकसित हुए हैं। कारों की दुनिया में भी हमने डिजाइन, शैली और उपयोगिता के बारे में जबरदस्त बदलाव देखे हैं।

इन सभी उत्पादों ने शुरुआत की तुलना में आज उपभोक्ताओं के लिए अधिक मूल्य प्रदान करके स्वयं को दूसरों से अलग किया है। इन उत्पादों की तरह ही, वित्तीय उत्पादों ने भी बचत करने के एक सरल तौर-तरीके से विकसित होते हुए आज संपत्ति निर्माण के उपकरण के रूप में अपनी पहचान कायम कर ली है। आज आप सिर्फ ब्याज से होने वाली आय के लिए बैंकों में पैसा जमा नहीं करते हैं, बल्कि क्रेडिट कार्ड संबंधी सेवा, कर्ज और ऐसी अनेक सेवा का भी उपयोग करते हैं।

नए दौर में यूलिप : भारत में बीमा उत्पादों ने भी विकास की इस प्रक्रिया को अपनाया है। भविष्य में होने वाली घटनाओं के प्रति ‘सुरक्षा’ प्रदान करने की सुविधा के साथ जीवन बीमा समाधान अब बाजार में सबसे लोकप्रिय संपत्ति निर्माण/निवेश समाधान में गिने जाते हैं।1यूनिट-लिंक्ड इंश्योरेंस प्लान या यूलिप (जिस नाम से ये लोकप्रिय हैं) की बात करें तो पिछले कुछ वर्षो में इनका स्वरूप खासा बदला है। वर्ष 2000 के दशक की शुरुआत में जब उन्हें बाजार में पेश किया गया था, तब से लेकर आज जहां वे पहुंचे हैं, ये उत्पाद ग्राहकों के लिए एक संपूर्ण वैल्यू-पैक के तौर पर उभरे हैं। यूलिप अब स्मार्ट, निवेशक-अनुकूल, अधिक पारदर्शी, कम लागत और कर-कुशल हैं। नियामक और उद्योग को जल्द ही यह समझ आ गया कि निवेशक तेजी से बदल रहा है, और उन्हें एक ऐसे बेहतर उत्पादों की आवश्यकता है जो उनके दीर्घकालिक वित्तीय लक्ष्यों को पूरा करे।

यूलिप के शुल्कों को नीचे लाया गया और इन्हें पॉलिसी की पूरी अवधि में समान रूप से फैलाया गया और निवेशकों के लिए लाभ के मौके भी बढ़ाए गए। अब, बीमाकर्ताओं ने ऑनलाइन यूलिप लांच कर दिए हैं, और इस तरह उनमें निवेश करना सिर्फ एक क्लिक दूर है। यूलिप के पास अब खुद को साबित करने के लिए एक दशक का लगातार बेहतरीन प्रदर्शन का मजबूत ट्रैक रिकॉर्ड है।1यूलिप में मॉर्टेलिटी चार्जेज की वापसी की सुविधा है जहां पॉलिसीधारक परिपक्वता के समय पॉलिसी अवधि के दौरान भुगतान किए गए पूरे मॉर्टेलिटी चार्जेज वापस हासिल करता है। इस सुविधा की वजह से पॉलिसीधारक का फंड बढ़ता है। इसके अलावा पॉलिसीधारक को अंत तक यूलिप में निवेश करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है। आने वाले दिनों में साफ लगता है कि यूलिप का इंडस्ट्री ट्रेंड बनना तय है।

इसलिए जब उद्योग और उपभोक्ताओं ने सोचा कि यूलिप को वास्तव में आकर्षक बनाए रखने के लिए क्या नया कर सकते हैं, तो हम मॉर्टेलिटी चार्जेज की वापसी की सुविधा या रिटर्न ऑफ लाइफ कवर लेकर आए। इस तरह यह सुविधा यूलिप को अच्छे निवेश समाधान या जीवन बीमा या कर लाभ अथवा तीनों की तलाश करने वाले ग्राहकों के लिए वन-स्टॉप-सॉल्यूशन बनाती है!

मुझे खुशी है कि ऐसे दौर में जब सभी उत्पाद उपभोक्ताओं की वर्तमान और भविष्य की जरूरतों को पूरा करने की होड़ में हैं, हमने यूलिप को और आकर्षक और प्रेरित बनाने के साथ इसमें क्रांतिकारी बदलावों को संभव बनाया, ताकि उपभोक्ताओं को इसमें निवेश करने के लिए और अधिक कारण मिल सकें।

इस लेख के लेखक अपॉइन्टेड एक्चुअरी और प्रेसिडेंट बजाज एलियांज लाइफ इंश्योरेंस साईं श्रीनिवास धूलिपाला है।

Posted By: Surbhi Jain