नई दिल्ली, किशोर ओस्तवाल। टाटा मोटर्स, टिस्को और इंफोसिस जैसे निफ्टी के कुछ शेयरों में मुनाफा वसूली के चलते इस हफ्ते निफ्टी में गिरावट दर्ज हुई। लेकिन इस हफ्ते में सरकारी कंपनियों व सरकारी बैंकों के शेयरों में भारी उछाल देखने को मिली। कई सरकारी कंपनियों के शेयर उच्च स्तर पर पहुंचे और साथ ही सरकारी बैकों में भी खूब तेजी देखने को मिली। इसका कारण है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार, जो सरकारी कंपनियों के निजीकरण के पक्ष में है। इसी समय एक मीडिया रिपोर्ट भी सामने आई, जिसमें चार सरकारी बैंकों का निजीकरण किये जाने की बात कही गई।

हमने अपनी पिछली रिपोर्ट्स में बताया था कि बैंक ऑफ महाराष्ट्र उन बैंक में शमिल होगा, जिनका निजीकरण किया जाएगा और उस समय बैंक के शेयर का मूल्य 12 रुपये था। अब जब सरकार द्वारा इसका निजीकरण किये जाने कि रिपोर्ट्स सामने आ रही है, तो इस बैंक का शेयर 27 रुपये के स्तर तक पहुंचा है। हमने 34 रुपये की एक उचित कीमत का अनुमान लगया था। हमारे जिन पाठकों ने हम पर भरोसा जताया होगा और यह शेयर लिया होगा, उन्हें 2 महीने से भी कम समय में 100 फीसद से अधिक का फायदा हुआ है।

हमने बीपीसीएल के लिए भी इस बारे में चर्चा की थी और बीपीसीएल भी काफी कम समय में 370 रुपये से 442 रुपये चला गया। हमने फिर से अनुमान लगाया है कि विनिवेश के समय इसकी कीमत 630 रुपये से ऊपर होगी। यहां तक ​​कि सरकार ने यह भी कहा है कि वह बीपीसीएल का मूल्यांकन 2 लाख करोड़ रुपये का करती है, जिसके अनुसार शेयर की कीमत 913 रुपये है। अगले 3 महीने में बिक्री की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी और पूरी दुनिया जानेगी कि बीपीसीएल को किस कीमत पर बेचा जाता है।

विश्लेषक सरकार की अक्षमता पर चर्चा करते हैं और कहते हैं कि बीपीसीएल साल 2002 से फेल रहा है। वे सरकार की अक्षमताओं पर काफी अधिक विश्वास करते हैं। हम मानते हैं कि चीजें बदल गई हैं। हमें विश्वास है कि सरकार को वह कीमत मिल जाएगी, जो वह चाहती है। अगर हम बीपीसीएल यूनियन के दावे पर ध्यान दें, तो बीपीसीएल के शेयर की कीमत 4400 रुपये है। एक बार बीपीसीएल का विनिवेश हो जाए, तो पीएसयू और पीएसबी के प्रति नजरिया नाटकीय रूप से यू-टर्न ले लेगा। कोई आश्चर्य नहीं, कि बैंक ऑफ बड़ौदा का शेयर 260 पर, बैंक ऑफ इंडिया का शेयर 300 पर और एसबीआइ का शेयर 1,000 रुपये पर हो जाए।

वैसे, हमारा मानना ​​है कि आने वाले हफ्तों में निफ्टी में अधिकतम गिरावट का अनुमान 400 अंकों का है, जो 14600 का आंकड़ा है, लेकिन तेजी का अनुमान 15700 से 16200 तक है, इसलिए रिवार्ड रेश्यो केवल लंबे समय के पक्ष में है। अब मिड कैप ने मूव करना शुरू कर दिया है। उदाहरण के रूप में Raymond's व Yarrii Digital और Soril Infra आदि स्मॉल कैप 31 मार्च, 2021 के बाद मूव करेंगे।

एफपीआई की बात करें, तो इनकी खरीदारी जारी है। इसलिए हमें कुछ पीएसयू स्टॉक्स पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए, जो एक बड़े लाभकारी और लगभग शून्य जोखिम वाले साबित हो सकते हैं। हमने ऐसा एक स्टॉक खोजा है, जो NMDC है। इसका वर्तमान बाजार मूल्य 118 रुपये है। हम समय के साथ इसे 250 से 300 रुपये तक बढ़ते हुए देखेंगे। क्यों ...?

इस कंपनी का मार्केट कैप 35000 करोड़ रुपये है, जबकि नेटवर्थ 28000 करोड़ रुपये है। इसका मतलब है कि बाजार ने इसकी क्षमता के अनुसार कीमत नहीं दी है। कंपनी ने तीसरी तिमाही में लगभग 3000 करोड़ रुपए का ibitda कमाया है। इस प्रकार इस पूरे वित्त वर्ष में ibitda 12000 करोड़ रुपये होना चाहिए। क्या अब 35000 करोड़ रुपये का मार्केट कैप जायज होगा? कंपनी ने इस वर्ष 31 मिलियन टन लौह अयस्क का उत्पादन किया है और 2 वर्षों में 67 मिलियन टन तक पहुंचने की उम्मीद है, जिसका मतलब है कि 2 वर्षों के लिए 50 फीसद से अधिक की भारी वृद्धि। लौह अयस्क से जुड़े कारोबारों के लिए स्टील व स्टील की बढ़ती कीमतों आदि में लोह अयस्क का उत्पादन बढ़ना काफी महत्व रखता है।

दिलचस्प परिदृश्य उत्पन्न हो रहा है। आम तौर पर जब हम किसी कंपनी की वैल्यूएशन करते हैं, तो 10x ibitda वैल्यूएशन देते हैं। यहाँ चूंकि ibitda 12000 करोड़ रुपये (सालाना) है, इसलिए इसका एम-कैप 1,20,000 करोड़ रुपये का होना चाहिए, न कि वर्तमान मार्केट कैप 35000 करोड़ रुपये। यह तो एक सपाट रीडिंग है। कुछ ऐसे तथ्य भी हैं, तो यह बताते हैं कि कंपनी का शेयर कम कीमत पर है और दोगुना या तिगुना हो सकता है। सबसे अच्छी बात यह है कि इतनी अच्छी सरकारी कंपनी में एफपीआई के पास केवल 14 करोड़ शेयर हैं और हमें विश्वास है कि इसमें कई गुना वृद्धि होगी।

शेयरों का चयन करना एक कला है और इसमें मजबूत तर्कों की आवश्यकता होती है। हम NMDC पर एक नज़र डालने और यहाँ बताए गए तथ्यों पर विचार करने की सलाह देते हैं। हमें उस दिन का इंतजार होगा, जब सरकार एनएमडीसी को बेचने की घोषणा करेगी, क्योंकि वह खनन क्षेत्र में 100 फीसद एफडीआई की घोषणा कर चुकी है। ऐसा ही एक बयान आने की आवश्यकता है और स्टॉक वास्तविक मूल्य को पकड़ने के लिए उड़ान भरेगा। अंडर वैल्यूएशन लंबे समय तक नहीं रह सकती है। हमने इसी अनुसार सेल (Sail) को 28-29 रुपये पर सजेस्ट किया था, जो अब 68-69 रुपये पर आ गया है। इसलिए एनएमडीसी भी ऐसा एक शेयर होना चाहिए।

लेखक सीएनआई रिसर्च (cniresearchltd) के सीएमडी हैं। प्रकाशित विचार उनके निजी हैं।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021