नई दिल्ली, बिजेनेस डेस्क। इक्विटी बाजारों ने 2021 में मजबूत तेजी देखी, जिसमें निफ्टी में 22 फीसद और निफ्टी मिडकैप 100/निफ्टी स्मॉलकैप 100 में क्रमशः 43 फीसद और 53 फीसद के लाभ के साथ कारोबार किया। मोतीलाल ओसवाल के अनुसार, अक्टूबर 21 में निफ्टी ने 18600 के रिकॉर्ड उच्च स्तर को छुआ। कोविड मामलों के घटने और टीकाकरण में तेजी से बाजार में लगातार पॉजिटिव कमाई देखी गई। अक्टूबर में अपने नए उच्च स्तर को छूने के बाद निफ्टी में पिछले दो महीनों में 10 फीसद का सुधार हुआ। कुल 63 कंपनियों ने आईपीओ के जरिये 1.19 लाख करोड़ रुपये जुटाए, जिससे यह किसी विशेष वर्ष में अब तक का सबसे अधिक पैसे कमाने का रिकॉर्ड है। इस साल कई नई डिजिटल कंपनियां (Paytm, Nykaa, Policy Bazaar, Zomato, आदि) को लिस्टेड किया गया और कई और आगे आने वाले हैं।

नवंबर 2021 में एक नए COVID-19 वैरिएंट ओमिक्रोन के आने से वैश्विक इक्विटी में सेंटीमेंट प्रभावित हुए हैं। इस नए वेरिएंट को लेकर बहुत सारी अनिश्चितताओं को देखते हुए हमने पिछले 2 महीनों में काफी उतार-चढ़ाव देखा है। तेज सुधार के बावजूद, भारत CY21 में टॉप परफॉर्म करने वालों में बना हुआ है।

दूसरे घरेलू मोर्चे पर अर्थव्यवस्था में त्योहारी सीजन के बाद लगातार तेजी रही। हम उम्मीद करते हैं कि मजबूत विकास गति जारी रहेगी।

मोतीलाल ओसवाल के अनुसार, हम आशावादी बने हुए हैं और उम्मीद करते हैं कि निफ्टी 2022 में लगभग 12 से 15% रिटर्न देगा, जो आर्थिक सुधार और मजबूत आय वृद्धि की निरंतरता से बढ़ेगा। जबकि बाजार की प्रवृत्ति निकट भविष्य में संभावित जोखिम के कारण अस्थिर हो सकती है। हमें उम्मीद है कि 2022 में आईटी, टेलीकॉम, कैपिटल गुड्स, सीमेंट और रियल एस्टेट जैसे सेक्टर अच्छा प्रदर्शन करेंगे। बैंकिंग और ऑटो ने अब तक बाजार में खराब प्रदर्शन किया है, 2022 में इनमें सुधार की संभावना है।

लार्ज कैप्स: टीसीएस, आईसीआईसीआई बैंक, भारती एयरटेल, एलएंडटी, गोदरेज कंज्यूमर प्रोडक्ट्स, डिविज लैब्स, टाइटन, टाटा मोटर्स, रिलायंस इंडस्ट्रीज, अपोलो हॉस्पिटल।

मिड कैप्स: एंजेल वन, मैक्रोटेक डेवलपर्स, रैमको सीमेंट, जेनसर टेक और देवयानी इंटरनेशनल।

डिस्क्लेमर: ये लेखक के अपने विचार हैं, निवेश करने से पहले अपने निवेशक की सलाह जरूर लें

Edited By: Nitesh