नई दिल्ली, पीटीआई: Union Budget-2022 में सरकार ने कॉर्पोरेट सेक्टर को बड़ी राहत दी है। कोरोना महामारी के बीच संघर्ष कर रहे इस सेक्टर को बजट-2022 में हुई घोषणाओं से कुछ राहत की उम्मीद है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट पेश करते हुए कहा कि उत्पादन के क्षेत्र की नई कंपनियों के लिए रिआयती कॉर्पोरेट टैक्स की दर लागू होगी। मार्च 2024 तक ऐसी कंपनियों को 18 फीसदी की जगह 15 फीसदी कॉर्पोरेट टैक्स देना होगा।

आम बजट-2022 में वर्चुअल डिजिटल संपत्ति के हस्तांतरण से होने वाली आय पर 30 फीसदी कर का भी प्रस्ताव रखा है। वित्त मंत्री ने कहा कि एक सीमा से अधिक आभासी संपत्ति के हस्तांतरण पर एक फीसदी टीडीएस काटा जाएगा। साथ ही सीतारमण ने कहा कि वर्चुअल डिजिटल संपत्ति के रूप में प्राप्त उपहारों पर भी उसी दर से कर लगेगा।

वित्त मंत्री ने घोषणा की कि एनिमेशन, विजुअल इफेक्ट्स, गेमिंग और कॉमिक्स (एवीजीसी) सेक्टर में युवाओं को रोजगार देने की अपार संभावनाएं हैं। सभी हितधारकों के साथ एक एवीजीसी प्रमोशन टास्क फोर्स का गठन किया जाएगा, ये हमारे बाजार और वैश्विक मांग के लिए घरेलू क्षमता का निर्माण करेगी। कर प्रस्ताव संसद में केंद्रीय बजट पारित होने के बाद 1 अप्रैल से लागू होंगे।

उन्होंने कहा कि पूर्वोत्तर के लिए प्रधानमंत्री की विकास पहल को पूर्वोत्तर परिषद के माध्यम से लागू किया जाएगा। जिसमें 1500 करोड़ रुपये का प्रारंभिक आवंटन होगा।

Edited By: Amit Singh