नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। दिसंबर, 2020 में थोक महंगाई दर (WPI) 1.22 फीसद पर रही। यह नवंबर, 2020 की तुलना में थोक महंगाई में कमी को दर्शाता है। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक नवंबर, 2020 में थोक महंगाई दर 1.55 फीसद पर रही थी। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक दिसंबर, 2019 में थोक मुद्रास्फीति 2.76 फीसद पर थी। खाने-पीने की वस्तुओं की कीमतों में नरमी से दिसंबर, 2020 में थोक मुद्रास्फीति में कमी देखने को मिली।

(यह भी पढ़ेंः PM Kisan के सभी लाभार्थियों को KCC देने की तैयारी, 4.5 करोड़ किसानों को होगा फायदा, रियायती दरों पर मिलेगा लोन)

डिपार्टमेंट फॉर प्रमोशन ऑफ इंडस्ट्री एंड इंटरनल ट्रेड की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक दिसंबर 2020 में WPI Food Index पर आधारित महंगाई दर 0.92 फीसद पर रह गई। इससे पहले नवंबर, 2020 में खाद्य वस्तुओं की थोक महंगाई दर 4.27 फीसद पर रही थी। 

उल्लेखनीय है कि खाने-पीने के सामान की कीमतों में कमी से खुदरा मुद्रास्फीति दिसंबर, 2020 में जबरदस्त गिरावट के साथ 4.59 फीसद पर रह गई।

भारतीय रिजर्व बैंक नीतिगत दर तय करते समय महंगाई दर को ध्यान में रखता है। उल्लेखनीय है कि सरकार ने केंद्रीय बैंक को खुदरा महंगाई दर को 2 से 6 फीसद के बीच सीमित रखने का लक्ष्य दिया है।

(यह भी पढ़ेंः ऑनलाइन एजुकेशन सेक्टर की बड़ी कंपनी BYJU'S करेगी आकाश एजुकेशनल सर्विसेज का अधिग्रहण, 7,300 करोड़ रुपये की हो रही डील)

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021