नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। बहुत से लोग खासकर शहरी इलाकों में क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करने लगे हैं। कुछ लोग क्रेडिट कार्ड पर बहुत अधिक भरोसा करते हैं और उनकी जरूरतों के मुताबिक क्रेडिट कार्ड मिल भी जाते हैं। चूंकि अपने साथ क्रेडिट कार्ड ले जाना कई लोगों की आदत बन गई है, ऐसे में क्रेडिट कार्ड खोने का भी खतरा है। अगर क्रेडिट कार्ड खो जाता है तो इसके गलत इस्तेमाल का खतरा ज्यादा है।

अगर आपका क्रेडिट कार्ड खो गया है तो आपको क्या करना चाहिए

1. कार्ड जारीकर्ता से तुरंत संपर्क करें: एक बार जब आपको पता चलता है कि आपका कार्ड चोरी हो गया है या गुम हो गया है तो पहला कदम यह है कि आप अपने कार्ड जारीकर्ता को इसकी सूचना दें। इसके गलत इस्तेमाल से पहले आपको इसके खोने की सूचना देना जरूरी है। ऐसा करने से आप सुनिश्चित करते हैं कि आपके कार्ड से किए गए आगे के खर्चों के लिए आपको जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता है। कॉल का मैसेज के जरिये सूचित करने से पहले सुनिश्चित करें कि आपके पास अपना खाता नंबर, चोरी की तारीख, अंतिम अधिकृत लेनदेन की तारीख और राशि और अन्य डिटेल तैयार हैं।

यह भी पढ़ें: Whatsapp के जरिये घर बैठे निपटा सकते हैं बैंकिंग के ये काम, जानिए मिलती हैं कौन-सी सुविधायें और क्या है चार्ज

2. अपना कार्ड लॉक करें: यदि आपका कार्ड खो गया है तो उसे लॉक करवा दें। अधिकांश कार्ड जारीकर्ता आपको अपने मोबाइल ऐप या वेबसाइट या यहां तक ​​कि एक फोन कॉल के माध्यम से कार्ड को ब्लॉक या फ्रीज करने की अनुमति देते हैं। जब तक कार्ड ब्लॉक या जमा न हुआ हो तब तक कार्ड स्टेटमेंट पर पैनी नज़र रखें और किसी भी अनधिकृत लेन-देन की सूचना तुरंत अपने बैंक और क्रेडिट कार्ड जारीकर्ता को दें।

यह भी पढ़ें: क्रेडिट कार्ड के इस्तेमाल पर ये गलतियां पड़ेंगी भारी, जानिए इससे बचने का तरीका

3. रिप्लेसमेंट: कार्ड के गुम होने की रिपोर्ट करने और उसे ब्लॉक करने के बाद आपका कार्ड जारीकर्ता मामले को देखेगा और आपके कार्ड को बदलने के लिए उपाय करेगा। आदर्श रूप से ऐसी परिस्थितियों में आपका क्रेडिट कार्ड जारीकर्ता पुराने कार्ड को रद कर देगा और आपको एक नया कार्ड जारी करेगा। इसके अतिरिक्त, कार्ड सुरक्षा योजना (CPP) सेवा कई बैंकों और बीमा कंपनियों द्वारा दी जाती है। इस सुरक्षा योजना के तहत, आपके कार्ड को नुकसान, चोरी या धोखाधड़ी से बचाया जाता है। वास्तव में, न केवल आपके क्रेडिट या डेबिट कार्ड बल्कि स्थायी खाता संख्या (पैन) कार्ड जैसे दस्तावेज भी इस तरह की योजनाओं के तहत सुरक्षित हैं। इन कवर का लाभ उठाने के लिए, ग्राहकों को अपने कार्ड का बीमा करने के लिए एक निश्चित राशि का भुगतान करना होगा। 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस