नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। कोरोना काल में भारत में बड़ी संख्या में नए डीमैट अकाउंट खुले हैं। भारी संख्या में नए निवेशक शेयर बाजार में निवेश के लिए आए हैं। शेयर बाजार में निवेश के लिए जाने से पहले इसके बारे में सही जानकारी होना काफी आवश्यक है। इसके लिए दैनिक जागरण समय-समय पर पाठकों को जागरूक करता रहता है। इसी क्रम में जागरण न्यू मीडिया के मनीश मिश्रा और अभिनव गुप्ता ने Jagran Dialogues के तहत 'शेयर मार्केट में निवेश कर किस प्रकार पैसा कमाया जाए', इस विषय पर शेयर बाजार के एक्सपर्ट विपुल वर्मा और Invest Shoppe के सीईओ आशीष कपूर से विस्तृत चर्चा की। इस पैनल परिचर्चा के मुख्य अंश इस प्रकार हैंः

सवाल: शेयर बाजार में निवेश के क्या लाभ हैं और शुरुआत कैसे की जाए।

आशीष कपूर: शेयर बाजार में सही तरह से निवेश करेंगे, तो आपके रिटर्न हमेशा महंगाई से बेहतर रहेंगे। महंगाई दर औसतन 5 फीसद है और अगर आपका रिटर्न 5 फीसद से ग्रो नहीं कर रहा, तो आपका निवेश सही काम नहीं कर रहा है। आप नियमों को ठीक से समझकर और रजिस्टर्ड स्टॉक ब्रोकर के माध्यम से निवेश करें, तो यहां फ्रॉड न के बराबर है। सबसे अच्छी बात है कि यहां आपको तत्काल लिक्विडिटी मिल जाती है। शेयर मार्केट से अच्छा व सरल तरीका निवेश करने का कोई ओर नहीं है।

पूरी पैनल परिचर्चा के लिए देखें वीडियो

सवाल: नए निवेशक को शेयर बाजार में शुरुआत में कितनी पूंजी लगानी चाहिए।

विपुल वर्मा: आप कितनी भी राशि से निवेश कर सकते हैं और आप जब तक चाहें तब तक निवेश जारी रख सकते हैं। निवेशक अपनी निवेश पूंजी में कितना रिस्क ले सकते हैं, इसका ध्यान रखना चाहिए। इस बाजार में रिस्क काफी अधिक है। यहां निवेश आपकी जोखिम लेने की क्षमता पर निर्भर करता है। 

सवाल: नए निवेशक किस तरह शुरुआत करें।

आशीष कपूर: आपको एक सलाहकार की जरूरत होगी। आपको जानकारी के साथ बाजार में उतरना चाहिए। बिना जानकारी के शेयर बाजार में उतरना घातक है। शेयर बाजार में वही पैसा लगाएं, जिसकी आपको तत्काल जरूरत नहीं है। लंबी अवधि के लिए आप जो पैसा छोड़ सकते हैं, वही बाजार में लगाएं। 

सवाल: लंबे समय के लिए इक्विटी निवेश का सबसे बेहतर माध्यम है। क्या यह बात सही है। निवेशक शेयर का चुनाव कैसे करे।

विपुल वर्मा: निवेशक को स्वयं से तीन सवाल पूछने चाहिए। क्या, क्यों और कब। कुछ ऐसे शेयर भी हैं, जिनमें निवेशकों ने बहुत नुकसान उठाया है। हमें कब स्टॉक को पिक करना है, वह जानना जरूरी है। हम इसके लिए सलाहकार की सलाह ले सकते हैं। साथ ही आपको खुद की भी रिसर्च करना चाहिए। जहां तक क्यों का सवाल है, तो बता दूं कि शेयर बाजार जितना अच्छा निवेश का माध्यम है, उतना ही जोखिम भरा है। हमें निवेश से पहले यह जान लेना चाहिए कि यहां निवेश क्यों कर रहे हैं और आप किसी शेयर को होल्ड कर रहे हैं, तो क्यों कर रहे हैं। कब के बारे में आपको यह जानना चाहिए कि क्या यह निवेश का सही समय है। आपको मैक्रो इकोनॉमिक परिदृष्य को देखते हुए यह पता करना होगा। आप अगर बाजार के उच्च स्तर पर एंट्री लेने का सोच रहे हैं, तो यह घातक हो सकता है।

सवाल: निवेशक खुद की रिसर्च के आधार पर किस तरह शेयर का चयन करे।

आशीष कपूर: नए निवेशक के लिए बहुत आसान तरीका है कि वह इंडेक्स में निवेश करे। निफ्टी के इंडेक्स में निवेश किया जा सकता है। यहां निवेश के लिए किसी की सलाह की जरूरत नहीं है। अगर आप सेंसेक्स लेते हैं तो आपको 30 बड़ी कंपनियों का इंडेक्स मिल जाता है और निफ्टी लेते हैं तो 50 बड़ी कंपनियों का इंडेक्स मिल जाता है। फायदा यह है कि ये लॉर्ज कंपनियां बहुत स्टेबल रहती हैं और कोई कंपनी अगर कमजोर हो रही हो तो वह इंडेक्स से बहार निकल जाती है व उसकी जगह एक नई कंपनी आ जाती है। म्युचुअल फंड के जरिए भी आप इंडेक्स में निवेश कर सकते हैं।

अगर आपको किसी कंपनी में निवेश करना है, तो आपको कंपनी के प्रोफाइल, प्रॉफिट, रिटर्न आदि की जानकारी ले लेनी चाहिए। कंपनी की वित्तीय स्थिति के बारे में जान लेना चाहिए। उन सेक्टर की कंपनियों में भी निवेश कर सकते हैं, जिनमें हमेशा मांग बनी रहती है, जैसे एफएमसीजी सेक्टर। नए निवेशक को शुरुआत में बड़ी कंपनियों में निवेश करना चाहिए, क्योंकि कंपनी जितनी छोटी होती है, उसमें जोखिम उतना ही अधिक होता है।

Edited By: Pawan Jayaswal