नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। फ्रिफरेंशियल शेयर जारी करने के बाद अब उदय कोटक की कोटक महिंद्रा में हिस्सेदारी 30 फीसद से घटकर 20 फीसद के करीब आ गई है। उदय कोटक कोटक महिंद्रा के एमडी और सीईओ एवं प्रमोटर हैं। उन्होंने अपनी हिस्सेदारी को कम करने का फैसला आरबीआई के मानकों को पूरा करने के लिए किया है। अब बैंक में उनकी हिस्सेदारी घटकर 19.7 फीसद पर आ गई है।

प्रिफरेंशियस शेयर जारी किए जाने से पहले बैंक में उनकी हिस्सेदारी 30.03 फीसद थी। गुरुवार को कोटक महिंद्रा बैंक ने 500 करोड़ के प्रेफरेंस शेयर जारी किए हैं। बैंक ने नियामकीय फाइलिंग में जानकारी दी है, “500 करोड़ रुपये के PNCPS जारी किए जाने के बाद बैंक की पेड-अप कैपिटल 953.16 करोड़ रुपये से बढ़कर 1,453.16 करोड़ रुपये हो गई है। पीएनसीपीएस जारी करने के बाद, प्रमोटर होल्डिंग पेडअप पूंजी की 19.70 फीसद हो गई है। यह 31 दिसंबर, 2018 को आरबीआई की ओर से जारी किए गए मानकों को पूरा करने के संबंध में किया गया है।”

आपको जानकारी के लिए बता दें कि केंद्रीय बैंक ने प्राइवेट सेक्टर के कर्जदाताओं (बैंक) से कहा था कि वो प्रमोटर होल्डिंग को 31 दिसंबर 2018 तक कम कर 20 फीसद और 31 मार्च 2020 तक 15 फीसद तक लाएं। उदय कोटक की ओर से उठाया गया यह कदम इसी क्रम में हैं।

कोटक महिंद्रा के शेयर्स का हाल: बीएसई पर कोटक महिंद्रा बैंक लिमिटेड करीब 2.30 बजे 2.46 फीसद की बढ़त के साथ 1312.50 के स्तर पर कारोबार कर रहा है। इसका दिन का उच्चतम 1314 और निम्नतम 1289.40 का स्तर रहा है। वहीं, 52 हफ्तों का उच्चतम 1424 और निम्नतम 962.30 का स्तर रहा है।

Posted By: Praveen Dwivedi