नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के सचिव ने कहा है कि अमेरिकी राष्ट्रपति को चीन पर और टैरिफ नहीं बढ़ा पाने का अफसोस है। इससे पहले ट्रंप चीन के साथ चल रहे ट्रेड वार को और आगे ले जाने का संकेत दे चुके हैं। ग्लोबल इकोनॉमी में सुस्ती के संकेतों के बीच ट्रंप को जी-7 देशों की बैठक में दुनिया के दूसरे नेताओं के साथ तनाव का सामना करना पड़ रहा है। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन के साथ लंच के दौरान ट्रंप ने टकराव को लेकर चिंता जताई। लेकिन जब ट्रंप से पूछा गया कि क्या वह तनाव को जारी रहने देने के इच्छुक हैं, तो उन्होंने इसका पूरे विश्वास के साथ सकारात्मक जवाब दिया।

हालांकि, बाद में व्हाइट हाउस द्वारा जारी बयान में कहा गया कि ट्रंप के कथन को गलत समझा गया है। सचिव ने कहा कि ट्रंप ने केवल सकारात्मक बातों का जवाब दिया था, क्योंकि उन्हें चीन पर और टैरिफ नहीं बढ़ा पाने का अफसोस है। अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव से पहले मंदी की आशंका के बीच ट्रंप, कॉन्फ्रेंस के जरिये दुनियाभर के नेताओं को इकोनॉमी में तेजी लाने के लिए मनाने का प्रयास कर रहे थे।

ट्रंप के समकक्ष नेता उन्हें चीन से ट्रेड वार खत्म करने को कह रहे हैं। जी-7 देशों की बैठक ऐसे समय में हो रही है, जब चीन और अमेरिका दोनों ने एक-दूसरे पर टैरिफ बढ़ाने की घोषणा कर दी है।

Posted By: Pawan Jayaswal

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप