मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

बैरिट्ज (फ्रांस) एएफपी। विकसित देशों के संगठन जी-7 की बैठक में भाग लेने आए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और यूरोपीय यूनियन (ईयू) के नेताओं के बीच ट्रेड वार के खतरों को लेकर बहस छिड़ गई। ईयू कांउसिल के प्रमुख डोनाल्ड टस्क ने कहा कि ट्रेड वार के चलते मंदी गहराएगी, जबकि सुलह हो जाने से दुनियाभर की इकोनॉमी को मजबूती मिलेगी।

बैठक में भाग लेने से पहले ही ट्रंप ने फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों को धमकी देने के अंदाज में कहा था कि अगर वे यूएस की टेक्नोलॉजी कंपनियों पर लगाये गये टैक्स को वापस नहीं लेते हैं तो अमेरिका फ्रेंच वाइन पर आयात शुल्क लगा देगा। जवाब में टस्क ने भी कहा कि ईयू अपने सबसे अच्छे व्यापारिक साझीदार के साथ निपटने के लिए तैयार है। ईयू ने इस संघर्ष की शुरुआत नहीं की है, लेकिन वह इससे निपटने के लिए पूरी तरह तैयार है।

ट्रंप ने चीन के उत्पादों पर फिर बढ़ाया आयात शुल्क

वाशिंगटन, प्रेट्र। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चीन के उत्पादों पर नए सिरे से शुल्क लगाने की घोषणा कर दी है। व्हाइट हाउस की ओर से जारी एक वक्तव्य में ट्रंप ने कहा कि अक्टूबर से 250 अरब डॉलर की चीनी वस्तुओं पर 30 परसेंट का शुल्क लगाया जाएगा। उधर, अमेरिका और चीन के बीच गहराते ट्रेड वार के बीच अमेरिकी शेयर बाजार डाऊ जोंस इंडस्टियल एवरेज 600 अंक यानी 2.4 परसेंट नीचे लुढ़क गया। 

Posted By: Nitesh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप