नई दिल्‍ली, बिजनेस डेस्‍क। Indian Railways किराए में senior citizen concessions समेत दूसरे यात्रियों को रियायती टिकट अभी नहीं देगा। रेल, संचार एवं इलेक्ट्रॉनिक और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहा है कि कोविड महामारी और प्रोटोकॉल के मद्देनज़र कुछ यात्रियों की सभी श्रेणियों के किराए में रियायत अभी दोबारा शुरू नहीं होगी। उन्‍होंने बताया कि सभी Concession Ticket की बहाली के लिए सुझाव मिले हैं। रेल मंत्रालय ने मामले की जांच की है, लेकिन फिलहाल इसे लागू नहीं किया गया है।

किसे मिलेगा रियायती टिकट

उन्‍होंने संसद में बताया कि दिव्यांगजन की 4 श्रेणियों, रोगियों और छात्रों की 11 श्रेणियों को छोड़कर दूसरी किसी भी श्रेणी में टिकट पर रियायत नहीं मिलेगी। बता दें कि Covid Mahamari के बाद 20 मार्च 2020 से टिकट पर रियायत समाप्त कर दी गई थी। संसद में रेल मंत्री से पूछा गया था कि रेलवे ने आखिर क्‍यों Lockdown के दौरान train travel concessions को खत्‍म किया और क्‍या उन्‍हें इसे लेकर दरख्‍वास्‍त मिली है।

संसद में पूछा गया सवाल

उनसे यह भी सवाल किया गया था कि जब 12 प्रतिशत से भी कम यात्री किराए में रियायत का फायदा लेते हैं तो क्या सरकार सामाजिक जरूरत और दायित्व के मद्देनजर काफी समय से दी जा रही किराए में रियायत को बहाल करेगी?

कितना मिलता है Train Travel Concession

दिव्‍यांगजन

2nd class, SL, 1st class, 3AC, AC chair car में 75 फीसद रियायत

1AC और 2 AC में 50%

3AC और AC Chair Car (Rajdhani/Shatabdi trains) में 25%

MST और QST में 50%

Deaf-Dump Passenger : 2nd class, SL, 1st class में 50%

MST और QST में 50%

रेल मंत्री ने बीते महीने ऐलान किया था कि Indian Railways स्‍पेशल ट्रेनों के संचालन में कमी लाएगा। इससे टिकट की पुरानी दरें लागू हो जाएंगी। यह यात्रियों के लिए राहत की बात होगी। क्‍योंकि उन्‍हें पहले से कम किराया भरना पड़ेगा।

Edited By: Ashish Deep