नई दिल्ली पीटीआइ। Torus Kling Blockchain IFSC ने देश का पहला क्रिप्टो फ्यूचर्स ईटीएफ लॉन्च करने के लिए बीएसई की अंतरराष्ट्रीय शाखा इंडिया आईएनएक्स के साथ करार किया है। इस वित्तीय वर्ष के अंत तक उत्पाद को लॉन्च करने की योजना बनाई जा रही है, जो अंतरराष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्र प्राधिकरण (IFSCA) और अन्य नियामक अनुमोदन के अधीन है।

यह भी पढ़ें: आपके Aadhaar का कहां-कहां हुआ है इस्तेमाल, घर बैठे ऐसे लगाएं पता

दोनों संस्थाओं ने भारत के पहले बिटकॉइन और एथेरियम फ्यूचर्स ईटीएफ और मेटावर्स यूएस में लिस्टेड लार्ज-कैप डिस्काउंट सर्टिफिकेट लॉन्च करने के लिए एक समझौता ज्ञापन (MoU) पर हस्ताक्षर किए हैं। बिटकॉइन और एथेरियम फ्यूचर्स ईटीएफ यूएस के बाहर पहला क्रिप्टो-समर्थित फ्यूचर्स ईटीएफ होगा और यूएस और यूरोप के बाजारों में मेटावर्स लार्ज कैप स्टॉक को ट्रैक करने वाला पहला एशियाई डिस्काउंट सर्टिफिकेट होगा।

यह भी पढ़ें: Mobile App के जरिये लोन लेने से फर्जीवाड़े की आशंका ज्यादा, इन बातों का रखें ख्याल

Torus Kling Blockchain ईटीएफ और डिस्काउंट सर्टिफिकेट के माध्यम से ब्लॉकचैन-समर्थित प्रोडक्ट में भाग लेने वाले ग्राहकों से पहले दो वर्षों में 1 अरब डॉलर एसेट्स अंडर मैनेजमेंट (एयूएम) को लक्षित कर रहा है।

यह भी पढ़ें: आधार से आपका पैन लिंक है या नहीं, घर बैठे ऐसे करें चेक

ईटीएफ फ्यूचर्स को IFSCA के सैंडबॉक्स निर्माण के तहत लॉन्च किया जाएगा। टोरस क्लिंग ब्लॉकचैन IFSC स्मार्ट ऑर्डर रूटिंग के साथ चौबीसों घंटे भारत INX को नकदी देने वाला होगा। उत्पाद को टोरस वैश्विक वितरण टीम और भागीदारों के माध्यम से वितरित किया जाएगा।

यह भी पढ़ें: इन बैंकों के ग्राहक बिना कार्ड के भी ATM से निकाल सकते हैं पैसा, जानिए कैसे

Torus Kling Blockchain IFSC सैम घोष-प्रमोटेड Cosmea Financial Holdings और Kling Trading India के बीच 50:50 का संयुक्त उद्यम है। इंडिया आईएनएक्स ने जनवरी 2017 में अपनी व्यापारिक गतिविधियों की शुरुआत की और यह गिफ्ट आईएफएससी (अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्र) में स्थापित देश का पहला अंतरराष्ट्रीय एक्सचेंज है।

Edited By: Nitesh

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट