नई दिल्‍ली, पीटीआइ। Sensex के लिए शुक्रवार का दिन कुछ ठीक रहा। सुबह तेजी के साथ खुलने के बाद बीएसई का सेंसेक्‍स शाम को 76 अंक गिरकर बंद हुआ। सूचकांक 57200 अंक पर बंद हुआ। NTPC, Sunpharma समेत 1 दर्जन से ज्‍यादा शेयरों में तेजी रही। Nifty 50 भी मामूली गिरकर 17,101 अंक पर बंद हुआ। इससे पहले चौतरफा लिवाली का रुख रहने से प्रमुख शेयर सूचकांक सेंसेक्स शुक्रवार को शुरुआती कारोबार में 700 अंक से अधिक चढ़ गया था और फिर से 58,000 के स्तर पर पहुंच गया था।

जियोजित फाइनेंशियल सर्विसेज के रिसर्च हेड विनोद नायर के मुताबिक सुबह अच्छी शुरुआत के बाद कमजोर यूरोपीय ट्रेंड से घरेलू शेयर बाजारों ने फिर से बिकवाली देखी। यूएस फेड द्वारा सख्त नीति और यूक्रेन में बढ़ते भू-राजनीतिक तनाव ने वैश्विक भावनाओं को रंग दिया। इस सप्ताह लगातार भारी बिकवाली के बाद आईटी, रियल्टी और मिड एंड स्मॉलकैप्स के रिबाउंड को देखते हुए बाजार में मिला-जुला रुख रहा।

सेंसेक्स में मारुति को छोड़कर बाकी कंपनियों के शेयर मध्यम से अच्छे लाभ में रहे। शेयर बाजार के अस्थाई आंकड़ों के मुताबिक विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) ने गुरुवार को सकल आधार पर 6,266.75 करोड़ रुपये के शेयर बेचे। इससे पहले वैश्विक स्तर पर कमजोर रुख के बीच बीएसई सेंसेक्स गुरुवार को 581 अंक लुढ़क गया। अमेरिकी फेडरल रिजर्व द्वारा मार्च से नीतिगत दरों को सख्त किये जाने के संकेतों के बीच बाजार में गिरावट रही। तीस शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स 581.21 अंक यानी एक प्रतिशत लुढ़ककर 57,276.94 अंक पर बंद हुआ। इसी प्रकार, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 167.80 अंक यानी 0.97 प्रतिशत की गिरावट के साथ 17,110.15 अंक पर बंद हुआ।

सेंसेक्स के शेयरों में एचसीएल टेक का शेयर 4 प्रतिशत से अधिक लुढ़ककर सर्वाधिक नुकसान में रहा। इसके अलावा टेक महिंद्रा, डॉ. रेड्डीज, विप्रो, टीसीएस, टाइटन और इन्फोसिस के शेयर भी प्रमुख रूप से नुकसान में रहे। दूसरी तरफ लाभ में रहने वाले शेयरों में एक्सिस बैंक, एसबीआई, मारुति और कोटक बैंक शामिल हैं।

Edited By: Ashish Deep