नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। बुधवार को शेयर बाजार भारी बढ़त के साथ बंद हुआ। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का सूचकांक सेंसेक्स 645.97 अंक बढ़कर 38,177.95 और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 186.90 अंक उछलकर 11,313.30 पर बंद हुआ। निफ्टी के 50 शेयरों में से 38 हरे निशान और 12 लाल निशान पर बंद हुए। आज सुबह सेंसेक्स 96.07 अंकों की बढ़त के साथ 37,628.05 पर खुला जबकि निफ्टी आज 26.55 अंकों की बढ़त के साथ 11,152.95 पर खुला।

सेंसेक्स के जिन शेयरों में तेजी रही उनमें इंडसइंड बैंक, भारती एयरटेल, आईसीआईसीआई बैंक, महिंद्रा एंड महिंद्रा और कोटक बैंक के शेयर रहे, जबकि गिरावट वाली शेयरों में यस बैंक, हीरो मोटोकॉर्प, एचसीएलटेक, आईटीसी और टीसीएस के शेयर रहे। वहीं, निफ्टी के शेयरों की बात करें तो इसमें इंडसइंड बैंक, इंफ्राटेल, भारती एयरटेल, एसबीआईएन के शेयर है, वही लूजर शेयरों की बात करें तो यस बैंक, हीरो मोटोकॉर्प, टाइटन के शेयरों में गिरावट रही।

बाजार में बढ़त के पीछे ये रही मुख्य वजह

महंगाई भत्ता बढ़ना: बाजार में बढ़त के पीछे सरकार की ओर से महंगाई भत्ता बढ़ाना भी रहा है। बता दें कि मोदी सरकार ने सरकारी कर्मचारियों और पेंशनर्स को दिवाली तोहफा देते हुए महंगाई भत्ते में 5 फीसद की वृद्धि कर दी है। इससे 50 लाख कर्मचारियों को फायदा होगा। यह बढ़ी हुई दरें इस साल जुलाई से ही लागू होंगी। सरकार ने डीए को 12 फीसद से बढ़ाकर 17 फीसद करने का फैसला किया है। इस फैसले से 50 लाख सरकारी कर्मचारियों के साथ ही 65 लाख पेंशनर्स को भी फायदा होगा। हालांकि, इससे सरकारी खाजने पर 16 हजार करोड़ रुपये का अतिरिक्त बोझ पड़ेगा। 

इंडसइंड बैंक के शेयरों में 10 अक्टूबर को दूसरी तिमाही की कमाई से पहले लगभग 6 फीसद की बढ़ोतरी हुई है। इससे ब्रोकरेज हाउसों को निजी क्षेत्र के कर्जदाता से बेहतर आय की उम्मीद है। मोतीलाल ओसवाल को सितंबर तिमाही के मुनाफे में 43 फीसद से अधिक की वृद्धि की उम्मीद है।

तेल की कीमतों का नीचे गिरना

तेल की कीमतें 60 डॉलर प्रति बैरल से नीचे आ गई हैं। खबर लिखे जाने तक ब्रेंट क्रूड फ्यूचर्स लगभग 0.26 फीसद बढ़कर 58.41 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार कर रहा था।

 

Posted By: Nitesh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप