नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। बैंकिंग, ऑटोमोबाइल, एनर्जी और फाइनेंस कंपनियों के शेयरों की लिवाली के चलते सोमवार को BSE Sensex 179.59 अंक यानी 0.52% की बढ़त के साथ 34911.32 अंक पर बंद हुआ। NSE Nifty भी 66.80 अंक यानी 0.65 फीसद की बढ़त के साथ 10311.20 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स पर बजाज ऑटो के शेयर में सबसे अधिक 6.89 फीसद की बढ़त देखने को मिली। इसके अलावा बजाज फाइनेंस, बजाज फिनजर्व, कोटक बैंक, पावरग्रिड, एनपीटीसी और एक्सिस बैंक के शेयरों में भारी तेजी देखने को मिली। 

(यह भी पढ़ेंः Credit Card की इन खासियतों के बारे में आपको शायद ही होगा पता, चुटकी बजाते कर सकते हैं ये सारे काम) 

वहीं, HDFC, ONGC, TCS, रिलायंस, एचडीएफसी बैंक, इन्फोसिस, महिंद्रा एंड महिंद्रा और मारुति के शेयर लाल निशान के साथ बंद हुए।

शुक्रवार को सेंसेक्स 34,731.73 अंक के स्तर पर बंद हुआ था। सोमवार को BSE का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक 34,892.03 अंक के स्तर पर खुला। एक समय में सेंसेक्स में 481 अंक की बढ़त देखने को मिली थी। हालांकि, बाद के सत्र में मुनाफावसूली के चलते सेंसेक्स थोड़ा नीचे आया।

आनन्द राठी में इक्विटी रिसर्च (फंडामेंटल) के प्रमुख नरेंद्र सोलंकी ने कहा एशियाई बाजारों में मिले-जुले संकेत के बावजूद भारतीय शेयर बाजार सकारात्मक धारणा के साथ खुले। उन्होंने कहा कि दोपहर के सत्र के दौरान बैंक, वित्तीय सेवाओं, धातु और मिडकैप स्टॉक में लिवाली के चलते बाजार में सकारात्मक स्थिति बनी रही। 

उन्होंने कहा कि जून में लिक्विडिटी की स्थिति भी सकारात्मक बनी हुई है क्योंकि अब तक विदेशी संस्थागत निवेशकों ने 17,985 करोड़ रुपये का निवेश भारतीय कैपिटल मार्केट में किया है। 

हालांकि, देश में कोरोनवायरस के बढ़ते मामलों के चलते बाजार में उतार-चढ़ाव का रुख रहा। शंघाई, हांगकांग, सिओल और टोक्यो में शेयर बाजार लाल निशान के साथ बंद हुए जबकि यूरोप में बाजार बढ़त के साथ खुले हैं। 

Posted By: Ankit Kumar

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस