नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। हफ्ते के आखिरी कारोबारी दिन शेयर बाजार बढ़त के साथ बंद हुआ। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का सूचकांक सेंसेक्स 246.32 अंक बढ़कर 39,298.38 और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का सूचकांक निफ्टी 75.50 अंक मजबूत होकर 11,661.85 पर बंद हुआ। निफ्टी के 50 शेयरों में से 35 हरे निशान और 15 लाल निशान में बंद हुए। आज सुबह बाजार बढ़त के साथ खुला। कारेाबार के दौरान यह ऊंचे में 39,361.06 अंक और 38,963.60 अंक के निचले स्तर पर रहा। 

सेंसेक्स में शामिल कंपनियों में यस बैंक सर्वाधिक 8.44 फीसद की तेजी रही। इसके बाद मारुति सुजुकी, पावरग्रिड, एनटीपीसी, एलएंडटी और भारतीय स्टेट बैंक के शेयरों में भी उछाल दर्ज किया गया। रिलायंस इंडस्ट्रीज का शेयर तिमाही परिणाम की घोषणा से पहले 1.37 फीसद चढ़ा। इसके विपरीत टाटा मोटर्स, बजाज ऑटो, भारती एयरटेल, आईसीआईसीआई बैंक, एक्सिस बैंक और इंफोसिस का शेयर 1.05 फीसद तक गिर गए। बीएसई मिडकैप और स्मॉलकैप में सेंसेक्स से ज्यादा तेजी रही। 

वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण की ओर से वित्त वर्ष 2019-20 में राहत के और उपाय करने के संकेत देने से भी निवेशकों की धारणा बदली। एशियाई बाजारों में चीन का शंघाई कंपोजिट, हांग कांग का हैंग सेंग और दक्षिण कोरिया का कोस्पी गिरावट में रहा। हालांकि, जापान का निक्की मजबूती में रहा।

कमजोर वैश्विक संकेतों और कच्चे तेल की कीमतों के मजबूत होने के बीच अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में शुक्रवार को रुपया 71.14 रुपये प्रति डॉलर पर लगभग अपरिवर्तित रहा। विदेशी निधियों के निरंतर निवेश के कारण रुपये में तेजी रही लेकिन कच्चे तेल की कीमत 60 डॉलर प्रति बैरल की ऊंचाई पर पहुंचने से रुपये के लाभ पर कुछ अंकुश लग गया।

Posted By: Nitesh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप