नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। हफ्ते के चौथे कारोबारी दिन शेयर बाजार बढ़त के साथ बंद हुआ। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का सूचकांक सेंसेक्स 595.37 अंकों की बढ़ोतरी के साथ 32,200.59 और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 175.15 अंकों की वृद्धि के साथ 9,490.10 पर बंद हुआ। निफ्टी के 50 शेयरों में से 42 शेयर हरे निशान और 8 शेयर लाल निशान में बंद हुए। सेंसेक्स के जिन शेयरों में तेजी रही उनमें LT, HEROMOTOCO, INDUSINDBK, HDFCBANK, और MARUTI के शेयर रहे। वहीं, आईटीसी, एसबीआई और भारती एयरटेल लाल निशान में रहे। 

विश्लेषकों ने कहा कि मई के डेरिवेटिव्स अनुबंधों के निपटान के मद्देनजर भागीदारों की शॉर्ट कवरिंग से बाजार में व्यापक तेजी देखने को मिलेगी। इसके अलावा वैश्विक बाजारों के मजबूत रुख से भी यहां धारणा को बल मिला। 

जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा कि यूरोपीय संघ की एक बड़ा पैकेज देने की योजना से यूरोपीय शेयरों में तेजी आई। अमेरिका-चीन राजनयिक मुद्दों की वजह से एशियाई बाजारों के शेयर प्रभावित हुए। भारत में हालांकि कोविड-19 के मामले लगातार बढ़ रहे हैं, लेकिन आर्थिक गतिविधियां शुरू होने से बाजार ने राहत की सांस ली है। नायर ने कहा कि और प्रोत्साहन उपायों से अर्थव्यवस्था में मांग बढ़ेगी और सबसे अधिक प्रभावित क्षेत्रों को मदद मिलेगी। 

बीएसई मिडकैप और स्मॉलकैप में 1.42 प्रतिशत तक का लाभ रहा। अर्थव्यवस्था में सुधार की उम्मीदों के बीच वैश्विक बाजारों में तेजी रहीं। अमेरिका का डाउ जोंस मार्च के बाद पहली बार 25,000 के ऊपर बंद हुआ। अन्य एशियाई बाजारों में चीन का शंघाई कम्पोजिट और जापान का निक्की लाभ में रहे। वहीं हांगकांग के हैंगसेंग और दक्षिण कोरिया के कॉस्पी में गिरावट आई। शुरुआती कारोबार में यूरोपीय बाजार एक प्रतिशत तक के लाभ में थे।

Posted By: Nitesh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस