नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। घरेलू शेयर बाजारों में गुरुवार को शुरुआती कारोबार में एक फीसद से ज्यादा उछाल देखने को मिला। अमेरिकी फेडरल रिजर्व के संकेतों की वजह से वैश्विक बाजारों में पैदा हुए सकारात्मक माहौल की बदौलत घरेलू शेयर बाजारों में यह बढ़त देखने को मिली। दोपहर एक बजे सेंसेक्स पर 810.22 अंक यानी 1.37 फीसद के उछाल के साथ 59,737.55 अंक के स्तर पर कारोबार हो रहा था। अब तक के कारोबार के दौरान सेंसेक्स 59,764.79 अंक के सर्वकालिक स्तर को छू चुका है। 

सुबह 11:18 बजे निफ्टी पर 180.70 अंक यानी 1.03 फीसद की तेजी के साथ 17,727.35 अंक के स्तर पर ट्रेडिंग हो रही थी। फेड रिजर्व ने कहा कि वह इकोनॉमिक ग्रोथ के लिए दिए जा रहे अभूतपूर्व सपोर्ट को अगले साल तक जारी रख सकता है। इससे अमेरिकी शेयर बाजारों में रात के सत्र में काफी अधिक उछाल देखने को मिला।

निफ्टी पर शुरुआती कारोबार में Bajaj Finserv के शेयर में सबसे ज्यादा उछाल देखने को मिल रहा था। इसके अलावा कोल इंडिया, एक्सिस बैंक, टाटा मोटर्स और SBI के शेयरों में उल्लेखीय तेजी देखने को मिल रही थी।

दूसरी ओर, HDFC Life, Dr Reddy's, Shree Ram Cement, BPCL और TCS के शेयरों में सबसे ज्यादा गिरावट देखे को मिल रही थी।

सेंसेक्स पर इन शेयरों में दिखी तेजी

सुबह 09:27 बजे Sensex पर Axis Bank के शेयरों में सबसे ज्यादा 2.15 फीसद की तेजी देखने को मिली। इसके अलावा Tata Steel, SBI, Reliance, Bajaj Finserv, Kotak Mahindra Bank, ICICI Bank, HDFC Bank, IndusInd Bank, Infosys, M&M, NTPC, Bajaj Auto, Ultratech Cement, Nestle India, L&T, Powergrid, Bajaj Finance, Sun Pharma, HUL, HCL Tech, Bharti Airtel, HDFC, Maruti, ITC, Dr Reddy's और Asian Paints के शेयरों पर हरे निशान के साथ ट्रेडिंग हो रही थी।

दूसरी ओर, टेक महिंद्रा, टाइटन और टीसीएस के शेयरों पर गिरावट के साथ कारोबार हो रहा था।

इससे पिछले सत्र में 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक 77.94 अंक यानी 0.13 फीसद की गिरावट के साथ 58,927.33 अंक के स्तर पर बंद हुआ था। इसी तरह NSE Nifty भी 15.35 अंक यानी 0.09 फीसद लुढ़ककर 17,546.65 अंक के स्तर पर बंद हुआ।

शेयर बाजार के अस्थायी आंकड़ों के मुताबिक बुधवार को विदेशी संस्थागत निवेशकों (FIIs) ने 1,943.26 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर बेचे और शुद्ध आधार पर बिकवाल बने।

जानिए तेजी की वजह

रिलायंस सिक्योरिटीज में प्रमुख (स्ट्रेटेजी) बिनोद मोदी ने कहा कि अमेरिकी फेडरल रिजर्व द्वारा इकोनॉमी को सपोर्ट करने के लिए हर महीने 120 मिलियन डॉलर के एसेट परचेज प्रोग्राम को जारी रखने के फैसले से अमेरिकी शेयर बाजार बुधवार को तेज उछाल के साथ बंद हुए।

यूएस फेड रिजर्व की टिप्पणी से घरेलू शेयर बाजारों में भी काफी अधिक रौनक देखने को मिली।

अन्य एशियाई बाजारों की बात की जाए तो शंघाई और हांगकांग में दोपहर के सत्र में तेजी देखने को मिली। वहीं, सिओल में लाल निशान के साथ कारोबार हो रहा था। जापान में शेयर बाजार बंद रहे।

Edited By: Ankit Kumar