नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। पूंजी बाजार नियामक सेबी (भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड) जल्द ही अवकाश पर चल रहीं आइसीआइसीआइ बैंक की सीईओ चंदा कोचर और उनके पति को समन भेज सकता है। माना जा रहा है कि सेबी इन दोनों को पूछताछ के लिए तलब कर सकता है। यह जानकारी एक अधिकारी ने दी है।

चंदा कोचर के खिलाफ बैंक के कारोबार में नियामकीय व्यवस्थाओं का अनुपालन न करने के आरोप में जांच चल रही है। सेबी कोचर दम्पति के अलावा इस बैंक और निजी क्षेत्र की कंपनी वीडियोकॉन के कुछ अधिकारियों को भी पूछताछ के लिए बुला सकता है। इस मामले में कोचर और बैंक पर करोड़ों रुपये का दंड और अन्य पाबंदियां लग सकती हैं जिसमें शेयर बाजार में कारोबार करने और किसी कंपनी के निदेशक बनने पर रोक भी शामिल है

वरिष्ठ अधिकारियों के मुताबिक, आइसीइसीआइ बैंक और कोचर परिवार के कारोबार को लेकर चल रही विभिन्न एजेंसियों की जांच पर सेबी का निदेशक मंडल अगले सप्ताह होने वाली बैठक में चर्चा करेगा। ऐसा माना जा रहा है कि बैंकिंग प्रणाली के लिए इस मामले के महत्व को देखते हुए सेबी, आरबीआई एवं सरकार की ओर से तालमेल से प्रयास करने की आवश्यकता है।

वहीं दूसरी तरफ बैंक और कोचर की ओर से लगातार यह दलील दी जा रही है कि उनकी ओर से किसी भी तरह का नियामकीय उल्लंघन नहीं हुआ है। साथ ही कोचर ने यह भी कहा कि उन्हें पति के कारोबारी लेनदेन के बारे में जानकारी नहीं थी।

Posted By: Praveen Dwivedi