नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। सोमवार को भारतीय शेयर बाजार के शेयर्स में गिरावट देखने को मिली है। बैंक के शेयर्स में करीब चार फीसद तक की गिरावट दर्ज की गई है। यह गिरावट बैंक की ओर से शुक्रवार को 17 वर्षों में पहली बार तिमाही नतीजों में हुए नुकसान के चलते देखने को मिली।

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया को वित्त वर्ष 2018 की तीसरी तिमाही के नीतीजों में 2416 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। जबकि बीते वित्त वर्ष की समान अवधि में बैंक को 1820 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था। खराब नतीजों के चलते शेयर 3.85 फीसद की कमजोरी के साथ दिन के निम्नतम स्तर यानि कि 285 के स्तर पर पहुंच गया।

बैंक के नतीजों के बाद इसके कुल मार्केट कैप में भी कमी देखने को मिली है। बीते कारोबारी सत्र में बैंक का मार्केट कैप 2,56 लाख करोड़ रुपये था जो कि सोमवार को घटकर 2.51 लाख करोड़ रुपये रह गया है। इस तरह से मार्केट कैप में करीब 5000 करोड़ रुपये की गिरावट दर्ज की गई है।

भारतीय स्टेट बैंक को 17 वर्षों में पहली बार किसी तिमाही में घाटे का सामना करना पड़ा है। बैंक पर फंसे कर्ज का बोझ लगातार बढ़ रहा है जिस कारण वित्त वर्ष 2016-17 में बैंक ने 20,000 करोड़ रुपये से अधिक के कर्ज को बट्टे खाते में डाल दिया है।

बीएसई पर एसबीआई का प्रदर्शन

करीब दिन के 1.15 बजे एसबीआई के शेयर्स 2.13 फीसद की कमजोरी के साथ 290.10 के स्तर पर कारोबार कर रहा है। इसका दिन का उच्चतम 292.40 का स्तर और निम्नतम 285 का स्तर रहा है। वहीं, 52 हफ्तों के उच्चतम स्तर की बात की जाए तो उच्चतम 351.50 का स्तर और निम्तम 241.25 का स्तर रहा है।

Posted By: Surbhi Jain