नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। सार्वजनिक क्षेत्र के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) ने बुधवार को सावधि जमा (फिक्स्ड डिपॉजिट) पर ब्याज दरों में 10 बेसिस प्वाइंट का इजाफा कर दिया है। अब चुनिंदा मैच्योरिटी के लिए फिक्स्ड डिपॉजिट पर ब्याज दरें 6.80 फीसद हो गई हैं।

अलग-अलग मैच्योरिटी की फिक्स्ड डिपॉजिट के लिए 5 से 10 बेसिस प्वाइंट का इजाफा किया गया है जो कि 1 करोड़ से नीचे की जमा पर लागू होंगी और नई दरें तत्काल प्रभाव से यानी 28 नवंबर से ही लागू कर दी गई हैं। ये जानकारी बैंक की आधिकारिक वेबसाइट पर उपलब्ध है। जानकारी के लिए आपको बता दें कि एक बेसिस प्वाइंट एक फीसद का सौवां हिस्सा होता है।

एसबीआई की ओर से फिक्स्ड डिपॉजिट पर ब्याज दरों में इजाफा किए जाने से पहले निजी क्षेत्र के प्रमुख बैंकों की ओर से भी एफडी पर ब्याज दरों में इजाफा किया जा चुका है। एचडीएफसी बैंक की ओर से डिपॉजिट रेट में 0.5 फीसद और आईसीआईसीआई बैंक की ओर से 0.25 फीसद का इजाफा चुनिंदा मैच्योरिटी के लिए इसी महीने की शुरुआत में किया जा चुका है।

क्या हुआ संशोधन?

एक वर्ष से लेकर 2 वर्ष के कम की अवधि वाली मैच्योरिटी के लिए एसबीआई की ओर से फिक्स्ड डिपॉजिट की दरों को 6.80 फीसद कर दिया गया है जो कि पहले 6.70 फीसद थी। वहीं सीनियर सिटीजन के लिए समान मैच्योरिटी की फिक्स्ड डिपॉजिट के लिए ब्याज दरों को 7.20 फीसद से बढ़ाकर 7.30 फीसद कर दिया गया है। वहीं दो वर्ष से लेकर तीन वर्ष से कम की अवधि के लिए एफडी पर ब्याज दर को बढ़ाकर 6.80 फीसद कर दिया गया है। यह दर पहले 6.75 फीसद रही थी। वहीं सीनियर सिटीजन इसी अवधि की मैच्योरिटी वाली एफडी पर 7.25 फीसद के बजाए 7.30 फीसद के हिसाब से ब्याज दर प्राप्त करेंगे। वहीं अन्य मैच्योरिटी वाली फिक्स्ड डिपॉजिट के लिए ब्याज दरों को यथावत रखा गया है। बैंक 3 वर्ष से लेकर पांच वर्ष से कम अवधि के लिए एफडी पर 6.80 फीसद की दर से ब्याज दे रहा है।

ये हैं एसबीआई की एफडी पर नई ब्याज दरें: 

गौरतलब है कि एसबीआई ने इससे पहले जुलाई महीने में भी एफडी पर 5 से 10 बेसिस प्वाइंट की दर से ब्याज दरें बढ़ाईं थीं।

Posted By: Nitesh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस