नई दिल्ली, पीटीआइ। देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक भारतीय स्टेट बैंक (SBI) के ग्राहकों को झटका लगा है। एसबीआई ने रिटेल टर्म डिपॉजिट पर मिलने वाले ब्याज में कटौती की है। बैंक ने इसमें 15 बेसिस प्वाइंट की कमी की है। नई दर 10 जनवरी 2020 से लागू हो गई हैं। इस टर्म डिपॉजिट की मियाद एक साल से 10 साल तक की है।

बैंक की वेबसाइट पर दी गई जानकारी के अनुसार, कर्जदाता ने एक वर्ष से 10 वर्ष तक की फिक्स्ड डिपॉजिट जमा पर ब्याज दरों को 6.25 फीसद से 6.10 फीसद कर दिया है। फिक्स्ड डिपॉजिट के लिए सात दिन से 45 दिन और 46 दिन से 179 दिन तक की अवधि के लिए, बैंक क्रमशः 4.50 फीसद और 5.50 फीसद की ब्याज दर दे रहा है।

180 दिनों और एक वर्ष से कम अवधि के लिए जमा होने वाली फिक्स्ड डिपॉजिट पर 5.80 फीसद का ब्याज दर मिलेगा। बैंक वरिष्ठ नागरिकों को 50 बेसिस पॉइंट उच्च ब्याज दर दे रहा है। एक साल से 10 साल में मैच्योर होने वाली फिक्स्ड डिपॉजिट पर वरिष्ठ नागरिकों को 6.60 फीसद की दर से ब्याज मिलेगा। पिछले महीने बैंक ने अपनी एक्सटर्नल बेंचमार्क आधारित दर (EBR) में 25 आधार अंकों की कटौती कर 8.05 फीसद प्रति वर्ष से  7.80 फीसद प्रति वर्ष कर दिया। इसके साथ बैंक की होम लोन दर भी 8.15 फीसद से घटकर 7.90 फीसद हो गई।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस