नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। देश के सबसे बड़े बैंक SBI ने सोमवार को कहा कि एक अक्टूबर, 2019 से उसके एमएसएमई, हाउसिंग एवं रिटेल जैसे फ्लोटिंग रेट लोन रेपो रेट से लिंक होंगे। बैंक ने सोमवार को प्रेस रिलीज जारी कर इसकी घोषणा की। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने चार सितंबर, 2019 को सर्कुलर जारी कर सभी बैंकों को अपने फ्लोटिंग रेट लोन को एक्सटर्नल बेंचमार्क से लिंक करने को कहा था। 

SBI एक जुलाई, 2019 को रेपो रेट आधारित आवास ऋण पेश करने वाला पहला बैंक था। हालांकि, हाल में एक ट्विटर यूजर के एक सवाल के जवाब में एसबीआई के जवाब के बाद इस तरह की खबरें आने लगी थीं कि एसबीआई ने रेपो रेट लिंक्ड लोन को वापस ले लिया है।

दैनिक जागरण ने जब इस बाबत बैंक के चेयरमैन रजनीश कुमार से सवाल किया था तो उन्होंने कहा था कि बैंक के रेपो रेट आधारित लोन उत्पादों को आरबीआई के दिशा-निर्देशों के अनुसार बनाने के लिए उनमें कुछ संशोधन किये जा रहे हैं।

बैंक की ओर से सोमवार की जारी रिलीज में कहा गया है कि जुलाई में लांच की गयी स्कीम में कुछ संशोधन किये गए हैं। हालांकि, संशोधन का विवरण नहीं दिया गया है। इस बारे में जल्द ही बैंक की वेबसाइट पर बताया जाएगा।   

Posted By: Ankit Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप