नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। बुधवार को रुपये की मजबूत शुरुआत हुई। यह डॉलर के मुकाबले 24 पैसे की मजबूती के साथ 74.15 के स्‍तर पर खुला। हालांकि यह रुपये की अब तक की सबसे कमजोर शुरुआत रही है। मंगलवार को रुपया अबतक के सबसे निचले स्तर 74.39 प्रति डॉलर पर बंद हुआ। इसके पहले सोमवार को रुपया अपने अब तक के सार्वकालिक 74.06 प्रति डॉलर पर बंद हुआ था।

गौरतलब है कि शुक्रवार को आरबीआई की ओर से ब्याज दरों में कोई बढ़ोत्तरी न होने से रुपये पर दबाव बना हुआ है। करेंसी मार्केट को ऐसी उम्मीद थी कि रुपये में गिरावट रोकने के लिए रिजर्व बैंक ब्याज दरों में वृद्धि कर सकता है। लेकिन, अब बाजार के जानकारों का मानना है कि क्रूड की कीमतें बढ़ने से रुपये में और गिरावट आ सकती है।

एक्सपर्ट्स यह मनाकर चल रहे थे कि डॉलर के मुकाबले लगातार ​गिरते रुपये को संभालने के लिए RBI रेपो रेट में 0.25 फीसद का इजाफा कर सकता है।

उल्लेखनीय है कि इस साल रुपये में करीब 15 फीसद तक कमजोरी आई है। क्रूड की कीमतें बढ़ने, ट्रेड वार, डॉलर की मजबूती, घरेलू स्‍तर पर निर्यात घटने जैसे फैक्‍टर्स की वजह से रुपया पर लगातार दबाव बना हुआ है।

 

जीतेगा भारत हारेगा कोरोन

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस