नई दिल्ली, एजेंसियां। खाद्य वस्तुओं की कीमतों में इजाफा की वजह से जून में खुदरा मुद्रास्फीति 6.09 फीसद पर रही। सरकार की ओर से सोमवार को जारी आंकड़ों में ऐसा कहा गया है। उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (CPI) आंकड़ों के मुताबिक जून में खाद्य वस्तुओं की महंगाई दर 7.87 फीसद पर रही। सांख्यिकी और कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय की ओर से जारी एक विज्ञप्ति में कहा गया है कि मुद्रास्फीति से जुड़े आंकड़े कोरोनावायरस महामारी की वजह से लागू पाबंदियों के कारण सीमित बाजारों से एकत्र डेटा के आधार पर तैयार किए गए हैं। जून, 2019 में खुदरा महंगाई दर 3.18 फीसद पर थी। 

सरकार की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक जून में खाद्य महंगाई दर घटकर नौ माह के निचले स्तर पर आ गई। इससे पहले मई में खाद्य मुद्रास्फीति 9.2 फीसद पर थी। 

सरकार ने कोरोनावायरस महामारी को फैलने से रोकने के लिए लागू लॉकडाउन की वजह से अप्रैल और मई महीनों के सीपीआई से जुड़े पूरे आंकड़े जारी नहीं किए थे। इससे पहले सरकार ने मार्च महीने की महंगाई दर से जुड़ा आंकड़ा जारी किया था। मार्च में खुदरा महंगाई दर 5.91 फीसद पर थी। 

CPI के आंकड़े महंगाई दर को लेकर रिजर्व बैंक के मध्यम अवधि के चार फीसद के लक्ष्य से ऊपर है। आरबीआई की द्विमासिक मौद्रिक नीति समिति की बैठक के लिहाज से खुदरा महंगाई के आंकड़े अहम होते हैं। 

केंद्रीय बैंक पिछले साल फरवरी से लेकर अब तक रेपो रेट में कुल-मिलाकर 2.50 फीसद की कटौती कर चुका है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस