मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

नई दिल्ली । रिलायंस इंडस्ट्रीज मध्य प्रदेश में अपने कोयला-खान मिथेन (सीबीएम) वाले ब्लॉकों से प्राकृतिक गैस का वाणिज्यिक उत्पादन शुरू करने की तैयारी में है।

रिलायंस इंडस्ट्रीज ने अप्रैल-जून तिमाही के वित्तीय नतीजों की घोषणा के बाद विश्लेषकों के समक्ष प्रस्तुत विश्लेषण में बताया कि सोहागपुर-पश्चिम ब्लाक के पहले चरण की सुविधाओं से परीक्षण के तौर पर गैस उत्पादन शुरू हो गया है। जबकि ग्राहकों तक पाइपलाइन के जरिए ईंधन पहुंचाने का परीक्षण और उसे चालू करने के पूर्व का काम जारी है।

कंपनी के अनुसार शुरुआती उत्पादन 10 लाख घन मीटर प्रतिदिन रह सकता है। राज्य में दो सोहागपुर ब्लॉक से अधिकतम उत्पादन 35 लाख घन मीटर प्रतिदिन अनुमानित है। आरआईएल के पास तीन सीबीएम ब्लॉक हैं। मध्य प्रदेश के सोहागपुर में 495 वर्ग किलोमीट सोहागपुर (पूर्व) तथा 500 किलोमीटर सोहागपुर (पश्चिम) तथा एक छत्तीसगढ़ के सोनहट में है।

कंपनी ने कहा, 'सोहागपुर पश्चिमी ब्लॉक के पहले चरण में जीजीएस-11 (गैस एकत्रित करने वाला स्टेशन) तथा 107 कुएं से गैस उत्पादन का परीक्षण शुरू हो गया है।' इसके अलावा जीजीएस-12 भी पूरा होने के करीब है और वित्त वर्ष 2016-17 की तीसरी तिमाही से यहां काम शुरू हो सकता है।

हालांकि कंपनी ने वाणिज्यिक उत्पादन की समयसीमा के बारे में नहीं बताया। रिलायंस को सोहागपुर के सीबीएम ब्लाक 2001 में सीबीएम के पहले दौर की नीलामी में हासिल किए थे। यह भूमिगत कोयले की परतों में पड़ी गैस को निकालने वाली तीसरी कंपनी है। ग्रेट ईस्टर्न एनर्जी और एस्सार ऑयल पहले से ही सीबीएम का वाणिज्यिक कारोबार कर रही हैं।

Posted By: Lalit Rai

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप