नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। मुद्रा बाजार सहित कई बाजारों में अब देर तक कारोबार होगा। भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने बुधवार को विभिन्न बाजारों के लिए व्यापारिक घंटे बढ़ा दिए। ये विशेष रूप से मनी मार्केट से संबंधित बाजार हैं, जिनका प्रबंधन और रेगुलेशन आरबीआई के हाथ में है। आरबीआई ने अपने एक बयान में कहा है कि अब डिमांड/नोटिस/टर्म मनी, कमर्शियल पेपर, सर्टिफिकेट ऑफ डिपॉजिट और मनी मार्केट के कॉरपोरेट बॉन्ड सेगमेंट में बाजार के समय को बढ़ाने का फैसला किया गया है।

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के इस फैसले के बाद बाद कॉल/नोटिस/टर्म मनी, कॉमर्शियल पेपर और सर्टिफिकेट्स ऑफ डिपॉजिट्स, कॉरपोरेट बॉन्ड्स में रेपो और रुपये के इंटेरेस्ट रेट डेरिवेटिव्स में डेढ़ घंटे ज्‍यादा कारोबार होग।

आपको बता दें कि COVID-19 द्वारा उत्पन्न अव्यवस्थाओं और लोगों के संक्रमित होने के खतरे को देखते हुए केंद्रीय बैंक ने अप्रैल 2020 में समय में बदलाव किया था। अब आरबीआई ने उसमें फिर से संशोधन कर दिया है।

कारोबार का समय बढ़ा

12 दिसंबर से लागू होने वाले नए समय के तहत, कॉल/नोटिस/टर्म मनी मार्केट शाम 5 बजे बंद होगा। कमर्शियल पेपर और सर्टिफिकेट ऑफ डिपॉजिट का बाजार शाम 5 बजे बंद हो होगा, जबकि कॉर्पोरेट बॉन्ड में शाम 5 बजे कारोबार समाप्त हो जाएगा। रुपया ब्याज दर डेरिवेटिव शाम 5 बजे क्लोजिंग के लिए जाएंगे।

फिलहाल कॉल/नोटिस/टर्म मनी मार्केट में सुबह 9 बजे से दोपहर बाद 3.30 बजे तक कारोबार होता है। गर्वनमेंट सिक्‍योरिटी और रेपो मार्केट में फिलहाल 9 बजे से 2:30 बजे तक काम होता है। इनके समय में कोई बदलाव नहीं किया गया है।

ये भी पढ़ें-

Digital Currency: बेधड़क इस्तेमाल कर सकते हैं डिजिटल रुपया, करेंसी नोट की तरह करेगा काम

RBI Repo Rate Hike: आरबीआई ने रेपो रेट में 0.35 फीसद की वृद्धि की, महंगे होंगे आटो व होम लोन

 

Edited By: Siddharth Priyadarshi

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट