नई दिल्ली: टाटा समूह में एन. चंद्रशेखरन का स्वागत करते हुए रतन टाटा ने शुक्रवार को कहा कि उनका काम कठिन है, फिर भी वह ग्रुप को नई ऊंचाइयों पर ले जाएंगे। उन्होंने कहा कि चंद्रशेखरन टाटा ग्रुप के मूल्यों की रक्षा करेंगे। रतन टाटा ने कहा कि चंद्रशेखरन 'बहुत क्षमतावान हैं और उन्होंने अपनी नेतृत्व क्षमता को साबित किया है। रतन टाटा ने यह बात ट्वीट के जरिए साझा की है।

टाटा ने ट्वीट कर कहा, 'टाटा संस और ग्रुप का चेयरमैन नियुक्त होने पर मैं चंद्रा को बधाई देता हूं। उनकी नेतृत्व क्षमता को यह सबसे बड़ा सम्मान है।' चंद्रशेखरन पर भरोसा जताते हुए टाटा ने कहा, 'उनका काम कठिन है। लेकिन मुझे पूरा भरोसा है कि वह ग्रुप के नैतिक मूल्यों की रक्षा करते हुए उसे नई ऊंचाइयों पर ले जाएंगे।'

आपको बता दें कि नटराजन चंद्रशेखरन को गुरुवार को मुंबई में हुई टाटा संस बोर्ड की बैठक में चेयरमैन चुनने का फैसला लिया गया था। गौरतलब है कि बीते 24 अक्टूबर को पूर्व चेयरमैन साइरस मिस्त्री को अपदस्थ किए जाने के बाद से ही इस पर उपयुक्त उम्मीदवार की तलाश थी।

पहले गैर पारसी चेयरमैन 21 फरवरी को संभालेंगे जिम्मेदारी

चंद्रशेखरन 21 फरवरी को 103 अरब डॉलर के समूह की होल्डिंग कंपनी में पदभार संभालेंगे। चंद्रा के नाम से लोकप्रिय 54 वर्षीय चंद्रशेखरन अंतरिम चेयरमैन रतन टाटा से पदभार संभालेंगे। पिछले साल 24 अक्टूाबर को मिस्त्री को हटाए जाने के बाद टाटा को अंतरिम चेयरमैन बनाया गया था। वह 150 बरस के टाटा समूह के इतिहास में पहले गैर पारसी चेयरमैन हैं।

Posted By: Praveen Dwivedi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप