नई दिल्ली, पीटीआइ। भारतीय रेलवे को 2018-19 में प्लेटफॉर्म टिकटों की बिक्री से 139.20 करोड़ रुपये की आय हुई। बुधवार को लोकसभा में एक प्रश्न के लिखित जवाब में रेल मंत्री पीयूष गोयल ने यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि प्लेटफॉर्म टिकटों की बिक्री से मौजूदा वित्त वर्ष में सितंबर महीने तक 78.50 करोड़ रुपये की आय हुई।गोयल ने कहा कि 2018-19 में स्टेशनों से विज्ञापनों एवं दुकानों से 230.47 करोड़ रुपये का राजस्व आया।

बता दें कि भारतीय रेलवे को 10 सालों में कबाड़ (स्क्रैप) बेचकर 35,073 करोड़ रुपये की आमदनी हुई। रेलवे ने एक आरटीआई आवेदन के जवाब में यह जानकारी साझा की। रेल मंत्रालय के अनुसार वर्ष 2009-10 से वर्ष 2018-19 की अवधि के बीच विभिन्न तरह के कबाड़ बेचकर विभाग ने 35,073 करोड़ रुपये कमाए। इसमें कोच, वैगन्स और पटरी के कबाड़ शामिल हैं। बीते 10 सालों में सबसे ज्यादा कबाड़ स्क्रैप 4,409 करोड़ रुपये का वर्ष 2011-12 में बेचा गया, जबकि स्क्रैप से सबसे कम आमदनी वर्ष 2016-17 में 2,718 करोड़ रुपये हुई। 

Posted By: Nitesh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस