नई दिल्ली, एजेंसियां। केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने गुरुवार को कहा कि भारतीय रेलवे अगले साढ़े तीन साल में 100 फीसद विद्युत चालित रेल नेटवर्क बन जाएगी। उन्‍होंने कहा कि इसके साथ ही यह दुनिया का सबसे बड़ा रेल नेटवर्क बन जाएगा। उन्‍होंने ये बातें CII के एक कार्यक्रम में कही। गोयल ने कहा कि रेलवे अपने पूरे नेटवर्क के विद्युतीकरण की ओर तेजी से बढ़ रहा है। उन्‍होंने जानकारी दी कि वर्तमान में रेल का 55 फीसद नेटवर्क विद्युत चालित है और यह साढ़े तीन साल में 100 फीसद विद्युत चालित नेटवर्क हो जाएगा।

इसके अलावा, रेल मंत्री ने यह भी कहा कि सौ फीसद विद्युत चालित रेल नेटवर्क बनाने के क्रम में 1,20,000 किमी का ट्रैक होगा। रेल मंत्री ने कहा कि 2030 तक हम उम्मीद करते हैं कि भारत दुनिया का सबसे बड़ा ग्रीन रेलवे होगा।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 'एक सूर्य, एक विश्व, एक ग्रिड' की अवधारणा को विश्व के सामने रख कर अंतरराष्ट्रीय सोलर अलायंस की वकालत की है, जिस पर हम आगे बढ़ रहे है। गोयल ने कहा आने वाले समय में हमारी सरकार पीएम कुसुम योजना के तहत किसानों को भी अक्षय उर्जा की परिधि में ला रही है।

उल्‍लेखनीय है कि इससे पहले इंडिया ग्लोबल वीक 2020 को संबोधित करते हुए पीयूष गोयल ने कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रेलवे के 100 फीसद विद्युतीकरण की योजना को मंजूरी दे दी है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस