नई दिल्ली (जेएनएन)। वाणिज्य और उद्योग मंत्री सुरेश प्रभु ने आज विश्वास जताया है कि निर्यात अर्थव्यवस्था की गति को आगे बढ़ाएगा क्योंकि हमारी अर्थव्यवस्था दोगुनी होकर 5 ट्रिलियन डॉलर (खरब डॉलर) होने के करीब है। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि आने वाले वर्षों में भारत दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगा।

वर्ल्ड ट्रेड एक्सपो 2017 में सुरेश प्रभु ने कहा, “हमारी अर्थव्यवस्था अब 2.5 खरब डॉलर से बढ़कर 5 खरब डॉलर हो जाएगी और अगले कुछ सालों में यह तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगा। ऐसे आर्थिक विकास के साथ, हमारा अंतर्राष्ट्रीय व्यापार भी बढ़ेगा।” पिछले हफ्ते अमेरिकी ब्रोकरेज बैंक ऑफ अमेरिका मेरिल लिंच ने अनुमान लगाया था कि भारता साल 2028 तक जापान को पछाड़ते हुए तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगा क्योंकि अगले दशक में इसकी जीडीपी के 10 फीसद की दर से बढ़ने का अनुमान है।

रिपोर्ट में आगे कहा गया है कि 2.26 बिलियन अमेरिकी डॉलर की अर्थव्यवस्था के साथ भारत पहले ही ब्राजील और रूस को पीछे छोड़ चुका है। इसके साथ ही भारत चीन के बाद ब्रिक्स देशों में दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन चुका है। इतना ही नहीं भारत साल 2019 तक फ्रांस और ब्रिटेन को पछाड़कर जर्मनी के बाद दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने की ओर अग्रसर है।

पिछले साल भारत की अर्थव्यवस्था 2.26 ट्रिलियन डॉलर रही थी लेकिन इस रिपोर्ट में यह नहीं बताया गया है कि साल 2028 तक भारत की अर्थव्यवस्था का आकार क्या होगा।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप