नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। सरकार ने पोस्ट ऑफिस स्मॉल सेविंग स्कीम, पीपीएफ, सुकन्या समृद्धि योजना, सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम और एनएससी जैसी योजनाओं पर ब्याज दरें अपरिवर्तित रखने का फैसला लिया है। सरकार ने इन छोटी बचत योजनाओं पर अक्टूबर से दिसंबर वाली तिमाही के लिए ब्याज दरों की घोषणा की है, जिसमें इन योजनाओं के लिए दरों में कोई बदलाव नहीं हुआ है। सरकार प्रत्येक तीन महीने में इन योजनाओं पर ब्याज दरों की घोषणा करती है।

इस तिमाही के लिए दरों में कोई बदलाव नहीं होने से पीपीएफ (PPF) और नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट्स (NSC) पर ग्राहकों को 7.9 फीसद की दर से ही ब्याज मिलता रहेगा। उधर सुकन्या समृद्धि योजना और सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम दूसरी छोटी बचत योजनाओं की तुलना में उच्च ब्याज देती रहेंगी। सुकन्या समृद्धि योजना पर इस समय 8.4 फीसद की दर से और सीनियर सिटीजन स्कीम में 8.6 फीसद की दर से ब्याज मिलता है।

इसके साथ ही पोस्ट ऑफिस की 5 साल वाली मंथली इनकम स्कीम पर भी 7.6 फीसद की ब्याज दर लागू रहेगी। वहीं किसान विकास पत्र पर ग्राहकों को 7.6 फीसद की दर से ब्याज मिलता रहेगा।

उधर एक से तीन साल के पोस्ट ऑफिस टर्म डिपॉजिट पर 6.9 फीसद की दर से ब्याज दर बनी रहेगी। साथ ही पांच साल के टर्म डिपॉजिट के लिए 7.7 फीसद ब्याज दर रहेगी और पोस्ट ऑफिस की पांच साल की आरडी के लिए 7.2 फीसद ब्याज दर लागू रहेगी।

इस तिमाही के लिए छोटी बचत योजनाओं की ब्याज दरों में बदलाव नहीं होने से अब एक अक्टूबर 2019 से लेकर 31 दिसंबर 2019 तक पुरानी दरें ही लागू होंगी। सीनियर सीटिजन सेविंग स्कीम, पीपीएफ और सुकन्या समृद्धि स्कीम छोटे निवेशकों के लिए बढ़िया रिटर्न देने वाली योजनाएं हैं।

Posted By: Pawan Jayaswal

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस