नई दिल्ली, पीटीआइ: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को 10.09 करोड़ से अधिक किसानों को पीएम-किसान सम्मान निधि योजना के तहत वित्तीय सहायता की 10वीं किस्त के रूप में कुल 20,900 करोड़ रुपये जारी किए। मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए आयोजित एक कार्यक्रम में लाभार्थियों को राशि जारी की। वर्चुअल इवेंट के दौरान, प्रधानमंत्री ने लगभग 351 किसान उत्पादक संगठनों (FPO) को 14 करोड़ रुपये से अधिक का इक्विटी अनुदान भी जारी किया, जिससे 1.24 लाख किसान लाभान्वित हुए।

कार्यक्रम में नौ मुख्यमंत्री, विभिन्न राज्यों के कई मंत्री और कृषि संस्थानों के प्रतिनिधि शामिल हुए। इस मौके पर केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि नए साल 2022 के पहले दिन करीब 10.09 करोड़ लाभार्थियों को करीब 20,900 करोड़ रुपये ट्रांसफर किए जा रहे हैं। उन्होंने यह भी कहा कि किसानों की आय दोगुनी करने के सरकार के प्रयास के तहत पीएम-किसान कार्यक्रम शुरू किया गया था।

गौरतलब है कि PM-KISAN की 9वीं किस्त अगस्त 2021 तक जारी की गई थी। जारी की गई नवीनतम किश्त के साथ, योजना के तहत प्रदान की गई कुल राशि लगभग 1.8 लाख करोड़ रुपये तक पहुंच गई है। प्रधानमंत्री कार्यालय के एक आधिकारिक बयान के अनुसार, यह सरकार की निरंतर प्रतिबद्धता और जमीनी स्तर के किसानों को सशक्त बनाने के संकल्प के अनुरूप है।

Koo App

लाइव: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पीएम-किसान की 10वीं किस्त जारी कर रहे हैं 10 करोड़ से अधिक लाभार्थी किसान परिवारों को 20,000 करोड़ रुपये से अधिक की धनराशि अंतरित की जाएगी यूट्यूब: https://youtu.be/Z2GwdGkdGSE फेसबुक: http://facebook.com/pibindia #PMKisan

View attached media content

- पीआईबी हिंदी (@PIBHindi) 1 Jan 2022

क्या है पीएम किसान योजना?

पीएम-किसान सम्मान निधि योजना के तहत पात्र लाभार्थी किसान परिवारों को प्रति वर्ष 6,000 रुपये का वित्तीय लाभ दिया जाता है, जो 2000-2000 रुपये की तीन समान किस्तों में आता है। यह किस्ते हर चार महीने में आती हैं यानी साल में तीन बार किसानों के खाते में इस योजना के जरिए 2000-2000 रुपये भेजे जाते हैं। योजना के तहत पैसा सीधे लाभार्थियों किसानों के बैंक खातों में ट्रांसफर किया जाता है।

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना एक दिसंबर 2018 से ऑपरेशनल है। यह भारत सरकार से 100% वित्त पोषण के साथ एक केंद्रीय क्षेत्र की योजना है। इस योजना के तहत किसान परिवारों को 6000/- प्रति वर्ष की आय सहायता दी जाती है। योजना के लिए परिवार की परिभाषा पति, पत्नी और नाबालिग बच्चे हैं।

Edited By: Lakshya Kumar