नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। 27 सितंबर यानी सोमवार के दिन एक बार फिर से डीजल के दामों में बढ़ोतरी देखने को मिली है। पूरे देश में डीजल की कीमतों में 24 से 26 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी हुई है। सरकारी तेल कंपनियों द्वारा मूल्य अधिसूचना के अनुसार, 2018 के बाद से अंतरराष्ट्रीय तेल की कीमतों में उच्चतम वृद्धि के बाद, सरकार के स्वामित्व वाली तेल कंपनियों द्वारा दरों में तीन सप्ताह के बाद यह तीसरी बार वृद्धि हुई है। हालांकि पेट्रोल की कीमतों में 27 सितंबर को भी कोई बदलाव देखने को नहीं मिला।

सरकार के मालिकाना हक वाली इंडियन ऑयल कॉर्प (IOC), भारत पेट्रोलियम कॉर्प लिमिटेड (BPCL) और हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉर्प लिमिटेड (HPCL) ने 24 सितंबर को दैनिक मूल्य संशोधन को दोबारा से शुरू किया था। जिस वजह से डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी देखने को मिली है।

मुंबई में डीजल की कीमत में 26 पैसे की वृद्धि देखने को मिली, जिसने मुंबई में डीजल की खुदरा कीमत 96.94 रुपये प्रति लीटर रह गई। हालांकि, मुंबई में पेट्रोल अपनी पुरानी कीमत 107.26 रुपये प्रति लीटर रही। वहीं देश की राजधानी दिल्ली में, डीजल की कीमतों में 25 पैसे की बढ़त देखने को मिली। जिसके बाद दिल्ली में, डीजल की कीमत 89.32 रुपये प्रति लीटर हो गई। वहीं दिल्ली में पेट्रोल अपनी पुरानी कीमत, 101.19 रुपये प्रति लीटर पर ही बिका।

इससे पहले 24 सितंबर के दिन भी, डीजल की कीमतों में 20 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी देखने को मिली थी। हालांकि, उस समय भी पेट्रोल की कीमतों में कोई परिवर्तन देखने को नहीं मिला था। अगस्त के दौरान औसत कीमतों की तुलना इस महीने अंतरराष्ट्रीय बाजार में पेट्रोल और डीजल की कीमत, लगभग 6 से 7 डॉलर प्रति बैरल बढ़ी है।

सरकारी तेल कंपनियां, जिन्हें लागत के हिसाब से हर दिन कीमतों में संशोधन करना होता है, उन्होंने लगभग तीन हफ्तों तक दाम में कोई बदलाव नहीं किया था। पर अब एक बार फिर से तेल कंपनियों ने कीमतों में वृद्धि की है। जुलाई महीने की तुलना में अगस्त में, औसत अंतरराष्ट्रीय कच्चे तेल की कीमतों में 3 अमरीकी डालर प्रति बैरल से अधिक की गिरावट देखी गई थी।

इससे पहले 4 मई से 17 जुलाई के दौरान पेट्रोल की कीमतों में 11.44 रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी हुई थी। इसके साथ ही डीजल के दाम में भी 9.14 रुपये की बढ़ोतरी की गई थी। जिस कारण से, देश के कई सारे हिस्सों में पेट्रोल की कीमतें 100 रुपये प्रति लीटर तक पहुंच गई थीं।

Edited By: Abhishek Poddar