नई दिल्ली, पीटीआइ। कैब सर्विस प्रोवाइडर ओला अगले 6-12 माह में प्रोडक्ट डेवलपर और रिसर्च इंजीनियर से लेकर बिजनेस एनालिस्ट तक के पदों पर 100 से अधिक फ्रेसर्स की नियुक्ति करेगी। कंपनी इन पदों के लिए देश के टॉप बिजनेस स्कूल एवं इंजीनियरिंग कॉलेज के छात्रों को हायर करेगी। ओला आइआइएम (अहमदाबाद, बेंगलुरु, कलकत्ता और लखनऊ), एक्सएलआरआइ, आइएसबी, एनआइटी, बिट्स पिलानी एवं प्रमुख आईआईटी से कैंपस प्लेसमेंट करना चाहती है। 

ओला ने एक स्टेटमेंट जारी कर कहा है, ''कंपनी अगले छह से 12 माह में सॉफ्टवेयर डेवलपर, रिसर्च इंजीनियर, बिजनेस एनालिस्ट, प्रोडक्ट डेवलपर, मैनेजमेंट ग्रेजुएट्स, प्रोग्राम मैनेजर्स के पदों पर 100 नियुक्तियां करेगी।'' 

ओला में फिलहाल 7,000 कर्मचारी कार्यरत हैं, जो कंपनी के मोबिलिटी, फाइनेंशियल सर्विसेज, फूड और फ्लीट मैनजमेंट विभागों में काम करते हैं।  

बेंगलुरु स्थित कंपनी ने कहा है कि वह 'एलिवेट' नाम से विशेष कैंपस इंडक्शन प्रोग्राम चलाती है। इस 12 माह के प्रोग्राम का लक्ष्य कैंपस से हायर किये गए युवाओं को बेहतर वर्कफोर्स बनाना है। 

ओला ने कहा कि उसने इस साल 60 से अधिक नयी भर्तियां की हैं, जो इस समय 12 माह की ट्रेनिंग कर रहे हैं। 

ओला ग्रुप के चीफ ह्यूमन रिसोर्स ऑफिसर श्रीनिवास चुंदुरु ने कहा कि कंपनी शानदार वृद्धि के दौर से गुजर रही है और दुनियाभर में अपनी सर्विसेज का विस्तार कर रही है।

Posted By: Ankit Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप