लंदन। स्टील किंग लक्ष्मी निवास मित्ताल ने भारत में निवेश से फिलहाल इंकार किया है। हालांकि उनका कहना है कि भारत अभी भी उनकी प्राथमिकता में है लेकिन निवेश के लिहाज से नहीं। झारखंड व ओडिशा में प्रस्तावित उनकी स्टील परियोजनाओं को भूमि अधिग्रहण और स्थानीय विरोध जैसी समस्याओं से जूझना पड़ रहा है।

अनिवासी अरबपति भारतीय और दिग्गज स्टील कंपनी आर्सेलरमित्ताल के मुखिया ने संडे टाइम्स को दिए इंटरव्यू में यह बात दोहराई है। उन्होंने कहा है कि भारत और चीन में जब तक स्थितियां नहीं सुधरती हैं, तब तक कंपनी के लिए निवेश करना मुश्किल होगा। दोनों जगहों पर आर्सेलरमित्ताल अपनी योजनाओं को अमलीजामा पहनाने में अब तक नाकाम रही है। इससे पहले भी वे भारत में निवेश को लेकर कई मौकों पर यह बात कह चुके हैं। उन्होंने कहा कि फिलहाल कंपनी का ध्यान कर्ज घटाने पर है। इसके लिए कंपनी गैर प्रमुख परिसंपत्तिायों को बेच रही है। हालांकि खनन गतिविधियों पर निवेश जारी रहेगा।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर