नई दिल्ली, पीटीआइ। राजमार्ग सेक्टर में निवेश को सुगम बनाने के लिए भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHAI) इन्फ्रास्ट्रक्चर इन्वेस्टमेंट ट्रस्ट (InvIT) गठित करेगा। यह किसी सरकारी निकाय द्वारा प्रयोजित देश का पहला इनविट होगा। इसके इन्वेस्टमेंट मैनेजर बोर्ड के लिए चेयरमैन और दो स्वतंत्र निदेशकों की नियुक्ति को लेकर एक सर्च कमेटी भी गठित की गई है। इनविट म्युचुअल फंड की तरह काम करता है। इसे इस तरह तैयार किया जाता है कि जिसमें कई निवेशकों से छोटी-छोटी राशि लेकर उसे उस संपत्ति में निवेश किया जाता है, जिससे निश्चित समय के बाद आय सृजित हो। 

सड़क, परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने कहा, 'एक नई कंपनी का गठन किया जा रहा है जो प्रस्तावित इनविट के लिए निवेश प्रबंधक के रूप में काम करेगी। एनएचएआइ का इनविट पहला इनविट होगा जिसका प्रायोजक कोई सरकारी या अर्धसरकारी निकाय होगा। इसलिए जरूरी है कि निवेश प्रबंधन के लिए पेशेवर प्रबंधन ढांचा हो।'

एनएचएआइ के चेयरमैन सुखबीर सिंह संधु सर्च कमेटी के संयोजक हैं। अन्य सदस्यों में एचडीफसी के चेयरमैन दीपक पारेख, आइसीआइसीआइ बैंक के चेयरमैन गिरीश चंद्र चतुर्वेदी और सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय के पूर्व सचिव संजय मित्रा शामिल हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में मंत्रिमंडल ने पिछले साल दिसंबर में इस संबंध में सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय के प्रस्ताव को मंजूरी दी थी। प्रस्ताव में एनएचएआइ को सेबी के दिशानिर्देशों के तहत इनविट गठित करने के लिए अधिकृत करने की बात कही गई थी।

Posted By: Manish Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस