नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। केंद्र सरकार ने कोविड-19 संकट को देखते हुए बुधवार को आयकरदाताओं और छोटे कारोबारियों की बड़ी रिलीफ देने का ऐलान किया। सरकार ने पांच लाख रुपये तक के सभी लंबित आयकर रिफंड को तत्काल जारी करने का निर्णय किया है। वित्त मंत्रालय की ओर से जारी प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है कि इस कदम से 14 लाख करदाताओं को लाभ होगा। इस विज्ञप्ति में कहा गया है कि इनकम टैक्स रिफंड के अलावा सभी लंबित जीएसटी और कस्टम रिफंड को भी रिलीज किया जाएगा। इससे एक लाख कारोबारियों को फायदा होगा। सरकार कुल 18,000 करोड़ रुपये के रिफंड जारी करेगी। 

आयकर विभाग ने ट्वीट कर कहा है कि कोविड-19 से जुड़ी स्थिति को देखते हुए भारत सरकार ने करदाताओं को तत्काल राहत देते हुए पांच लाख रुपये तक के सभी लंबित आयकर रिफंड एवं जीएसटी/ कस्टम रिफंड तत्काल जारी करने का फैसला किया है।

वित्त मंत्रालय की ओर से उठाया गया यह कदम हाल में घोषित 1.7 लाख करोड़ रुपये के प्रोत्साहन पैकेज से इतर है। सरकार ने कोरोनावायरस (कोविड-19) संक्रमण को रोकने के लिए लागू राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन से उपजे संकट के बीच प्रभावित लोगों को राहत देने के लिए ये कदम उठाए हैं। देश में लॉकडाउन 25 मार्च से लागू है, जो 14 अप्रैल तक जारी रहेगा।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कोरोना वायरस संक्रमण से मुकाबला कर रहे स्वास्थ्यकर्मियों के लिए 50 लाख रुपये के मेडिकल इंश्योरेंस कवरेज की घोषणा की थी। इसके अलावा राशनकार्ड धारकों को प्रति व्यक्ति निशुल्क पांच किलो अतिरिक्त अनाज और प्रति परिवार एक किलोग्राम दाल देने का ऐलान सरकार ने किया था। 

Posted By: Ankit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस